मधेपुरा : मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना बनी है दुधारू गाय, गली नाली निर्माण कार्य में बङे पैमाने पर मची है लूट

728x90
Spread the news

11 लाख 79 हजार 6 सौ पचास रु की लागत से गली नाली निर्माण ♦ कार्य के 15 दिन बाद ही हुआ बुरी तरह ध्वस्तसड़क बन गई है जानलेवासड़क पर वाहन चलने पर हो सकती है दुर्घटनाजा सकती है लोगों की जान ♦ ग्रामीणों में पनपते आक्रोश को देख बीडीओ ने लिया संज्ञान ♦ ध्वस्त गली नाली का मरम्मत कार्य करने का दिया आदेश ♦ वार्ड क्रियान्यवन प्रबंधन समिति सचिव और वार्ड सदस्य को फटकार लगाते हुए तत्काल राशि निकासी पर लगाया रोक 

प्रिंस कुमार मिठ्ठू
संवाददाता
बिहारीगंज, मधेपुरा

उदाकिशुनगंज/मधेपुरा/बिहार : प्रखंड क्षेत्र के बड़ाही आनंद पूरा पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 6 में एक पखवाड़े पहले ही मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना अंतर्गत 11 लाख 79 हजार 6 सौ पचास रु के लागत से योजना सं- 01 प्रमोद झा के घर से संतोष झा के घर होते हुए भुवनेश्वर झा के घर तक गली नाली निर्माण कार्य वार्ड क्रियान्वयन प्रबंधन समिति वार्ड नंबर 6 के वार्ड सदस्य विश्वेश्वर यादव और वार्ड सचिव  कल्याण झा के द्वारा कराया गया था। लेकिन 15 दिन बाद ही हुआ बुरी तरह ध्वस्त हो गया । जिस कारण सड़क जानलेवा बन गई, सड़क पर वाहन चलने पर कभी भी बङी घटना दुर्घटना की आशंका बनी हुई थी।

ग्रामीणों की शिकायत के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी मुर्शीद अंसारी ने वार्ड क्रियान्यवन प्रबंधन समिति सचिव और वार्ड सदस्य को फटकार लगाते हुए तत्काल राशि निकासी पर रोक लगा दिया है। आदेश दिया गया कि जहां भी सड़क ध्वस्त हुई है ध्वस्त गली नाली योजना का मरम्मत कार्य पूर्ण होने के उपरांत ही योजना की राशि निकासी की आदेश दिया जाएगा। प्रखंड विकास पदाधिकारी के आदेशानुसार वार्ड क्रियान्यवन प्रबंधन समिति सचिव कल्याण झा और वार्ड सदस्य विश्वेश्वर यादव ने गली नाली निर्माण कार्य योजना का मरम्मत कार्य मंगलवार सुबह से प्रारंभ कर दिया है।

बीडीओ मुर्शीद अंसारी ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा है कि सरकारी कार्य में लापरवाही और वित्तीय अनियमितता कदापि बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर फिर से कार्य में कोई लापरवाही बरती गई तो वार्ड क्रियान्वयन प्रबंधन समिति के खिलाफ कठोर निर्णय लिया जाएगा। वहीं वार्ड क्रियान्यवन प्रबंधन समिति सचिव कल्याण झा और वार्ड सदस्य विश्वेश्वर यादव ने बताया कि नई मिट्टी भराने के वजह से और फाइबर ईट लगाने के वजह से सड़क कहीं-कहीं धंस कर ध्वस्त हो गया था जिस को पुनः अधिकारियों के निर्देशानुसार ठीक-ठाक कराया जा रहा है।


Spread the news