मधेपुरा : बिहारीगंज में शराब कारोबारियों के खिलाफ प्रशासन ने चलाया सर्च अभियान

728x90
Spread the news

होली और लोक सभा निर्वाचन के मद्देनजर अधिकारियों का अभियान शुरू ♦ बिहारीगंज थाना अंतर्गत मंजौरा और जौतेली गाँव पहुंचे अधिकारियों ने सघन जांच के दौरान जमीन के नीचे से की शराब बरामद

प्रिंस कुमार मिठ्ठू
संवाददाता
बिहारीगंज, मधेपुरा

बिहारीगंज/मधेपुरा/बिहार : बिहार में पूर्ण शराब बंदी को लेकर सख्त प्रशासन ने होली और आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर रविवार को अहले सुबह शराब कारोबारी और शराबियों के खिलाफ विभिन्न स्थानों पर व्यापक पैमाने अभियान चलाया।

एसडीएम एस जेड हसन के नेतृत्व में कई थाने की पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर मंजौरा और जौतेली के विभिन्न टोले में छापेमारी कर शराब कारोबारी के बीच खलबली मचा दी। अधिकारियों के वाहनों और भारी संख्या में पुलिस बल को देखकर लोगों में अफरा तफरी की स्थिति पैदा हो गई । गाँव से निकलने वाले चारों तरफ के रास्ते को सील कर दिया गया । गाँव सहित बाहर से आने वाले सभी दो पहिया और चार पहिये वाहनों की गहन तलाशी शुरू हुई जो करीब दो घंटे तक चली। इस दौरान लोगों में भी दहशत का माहौल बना रहा। सभी एक दूसरे को शक की निगाह से देख रहे थे।

जौतेली के संथाल टोले में छापेमारी शुरू होते ही लोग इधर उधर भागने का प्रयास लगा। प्रशासन के इस अभियान से शराब पीने और बेचने वालो में हड़कंप मच गया। संथाल टोले में काफी देर तक चले इस अभियान में जमीन के नीचे छिपाकर रखे गए देशी शराब को बरामद कर नष्ट किया गया।

सनद रहे कि डीएम ने अधिकारियों को होली और चुनाव के मद्देनजर शराब के खिलाफ व्यापक पैमाने पर अभियान चलाने का निर्देश दिया। डीएम के निर्देश पर उदाकिशुनगंज के एसडीएम एस जेड हसन और उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से शराब और शराब कारोबारी के खिलाफ सर्च अभियान चलाया । इस अभियान में बड़े पैमाने पर देशी महुआ शराब को जमीन पर उँडेल कर नष्ट किया गया है। हलांकि किसी भी कारोबारी के गिरफ्तारी की सूचना नहीं है। एसडीएम ने कहा कि क्षेत्र में शराब पीने, पिलाने और इसके कारोबार को सहन नही किया जाएगा। सूचना पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी ।शराब के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगा ।


Spread the news