किशनगंज : शराब कारोबारियों के खिलाफ बहादुरगंज पुलिस की बड़ी कारवाई, धंधेबाजों में हडकंप

728x90
Spread the news

शशिकान्त झा
वरीय उप संपादक

किशनगंज/बिहार : रविवार को जिले के बहादुरगंज थाना की पुलिस ने फ्लेग मार्च के दौरान मिली गुप्त सूचना पर छापामारी कर शराब बनाने के लिए तैयार दो हजार लीटर के मेटेरियल सहित सभी सामानों को नष्ट कर दिया ।

जैसा कि रविवार को चुनाव के मद्देनजर रेलवे सुरक्षा की विशेषबल के बहादुरगंज पहुंचते हीं पुलिस निरीक्षक बहादुरगंज एस के पासवान और थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह की अगुआई में फ्लेग मार्च किया । जो क्षेत्र का दौरा करते,  जैसे गोपालपूर भट्ठा के निकट पहुंचे तो शराब बनाकर होली के लिए बेचे जाने की सूचना मिली । दोनो पुलिस पदाधिकारी गोपालपूर भट्ठा के दक्षिण आदिवासी टोला पहुंचे । सुरक्षाबलों की बड़ी तायदाद ने आदिवासी टोले को घेरकर छापेमारी शुरु कर दी । जहाँ शराब बनाने के लिए तैयार जावा (जो लगभग दो हजार लीटर की थी) को नष्ट करते हुए, शराब बनाने के ढेर सारे सामानों को भी नष्ट किया गया, एवं वहां मौजूद लोगों के माध्यम से शराब बनाने वालों को अंतिम चेतावनी भी देकर, कहा गया कि धंधे को बंद करें या फिर गिरफ्तार होने के लिए तैयार रहें ।

गौरतलव है कि छापेमारी बाले आदिवासी टोले में होली को लेकर बड़े पैमाने पर व्यवसायिक इस्तेमाल के लिए शराब बनाने की तैयारी थी । जिसे बहादुरगंज पुलिस ने समुल नष्ट कर दिया है । बताते चलें कि बहादुरगंज पुलिस शनिवार से हीं शराब तस्करों के विरुद्ध कड़े कदम उठा रही है । जिससे दो व्यक्ति भारी मात्रा में अवैध विदेशी शराब के साथ पकड़ा कर जेल भेजे जा चुके हैं । जबकि इनदोनों के एक फरार साथी की तलाश पुलिस कर रही है । शराब, शराबी और इसके धंधेबाजों के खिलाफ बहादुरगंज थानाध्यक्ष ने एक बड़ी मुहिम छेड़ दी है जो कारगर साबित होता दिख रहा है ।


Spread the news