मधेपुरा : बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए उपयुक्त विद्यालय का करें चयन-एसडीएम

728x90
Spread the news

महताब अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : शिक्षा तभी सर्वांगीण होती है जब शिक्षण संस्थान इसके लिए पूर्ण प्रयास करते हैं। विद्यालय प्रबंधन ईमानदारी से बच्चों को शिक्षित करने का इरादा करें तो ग्रामीण समाज की प्रतिभाएं भी सामने आकर प्रखरता से न केवल निखरेंगी बल्कि देश और दुनिया में अपना नाम कर सकती हैं। ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्कूल सिंहेश्वर ऐसा ही एक नाम है।

उक्त बातें जिले के सिंघेश्वर प्रखंड मुख्यालय स्थित ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्कूल परिसर में आयोजित वार्षिकोत्सव के दौरान बच्चों और अभिभावकों को संबोधित मधेपुरा अनुमंडल के एसडीएम श्री वृंदा लाल ने कही । किड्स वर्ल्ड स्कूल और ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्कूल सिंहेश्वर के संयुक्त वार्षिकोत्सव को काफी धूमधाम से मनाया गया।

इस मौके पर सदर डीएसपी वसी अहमद साहब ने कहा विद्यालय में समुचित इन्फ्रास्ट्रक्चर का होना आवश्यक है तभी बच्चों को उचित मानदंड एवं गुणवत्ता आधारित शिक्षा दी जा सकती है। इससे पहले दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की गई।

समारोह को स्कूल के प्राचार्य राकेश छेत्री, यूभीके करामा कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर माधवेंद्र झा, सहरसा लायंस क्लब के चार्टर प्रेजिडेंट व राजद यूथ के राष्ट्रीय महासचिव अजय सिंह, बैंक ऑफ इंडिया शाखा प्रबंधक अमित आनंद, प्रमुख प्रतिनिधि वरीय राजद नेता जयप्रकाश यादव, जिला कबड्डी संघ के सचिव अरुण कुमार, सिंहेश्वर सरपंच राजीव कुमार बबलू, भवानीपुर मुखिया प्रमोद मिश्र, निजी स्कूल संघ के प्रवक्ता मानव सिंह, अमित गौतम आदि ने भी संबोधित किया।
वार्षिक समारोह को बच्चों ने अपनी प्रस्तुति से यादगार बना दिया। कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से हुई। किड्स वर्ल्ड स्कूल के नन्हे बच्चों ने इतनी खूबसूरत प्रस्तुति दी कि सबने दांत तले उंगलियां दबा ली। वहीं ग्रीनफील्ड स्कूल सिंहेश्वर के बच्चों ने भी आकर्षक प्रस्तुतियां दी।

 बिहार के लोक नृत्य जाट जटिन, पंजाब का गिद्धा, राजस्थान के लोक नृत्य विशेष आकर्षण का केंद्र बने। तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा पंडाल गूंजता रहा। इस दौरान ‘अंधेर नगरी चौपट राजा’ नाटक का मंचन भी किया गया। इस हास्य व्यंग्य को देख लोग हंस कर लोटपोट हो गए। वहीं बच्चों ने मूक अभिनय का नमूना भी पेश किया। विविधताओं से भरे कार्यक्रम को देख कर लोगों ने खूब सराहा। कार्यक्रम इतना मनोरंजक था कि करीब छह घंटे तक दर्शक अपनी जगह से हिले तक नहीं।

कार्यक्रम को तैयार करने में शशिप्रभा मैम, वकील वाका, राजा, अक्षत सर, संयोग सर, कृति मैम, नेहा मैम, शिवानी मैम, निक्की मैम, काजल मैम, शिवम सर सहित अन्य लोगों का योगदान रहा। इस दौरान विद्यालय के निदेशक कुंदन कुमार, चेतन अग्रवाल, कन्हैया अग्रवाल, पिंटू अग्रवाल और रूपेश कुमार सक्रियता से मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन मिथिलेश वत्स ने किया। समारोह में मुखिया प्रतिनिधि राजेश झा, रवि शर्मा, राजू घोष आदि मौजूद थे।


Spread the news