दरभंगा : बाबरी मस्जिद के शहादत और डॉ अम्बेडकर के स्मृति दिवस पर वामदल ने निकाला संविधान बचाओ धर्मनिपेक्षता बचाओ मार्च

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा
दरभंगा : वाम दलों के राज्यव्यापी आह्वान पर पोलो मैदान से बाबरी मस्जिद शहादत और डॉ अम्वेदकर स्मृति दिवस पर संविधान बचाओ – धर्मनिपेक्षता बचाओ मार्च निकाल कर लोहिया चौक होते हुए लहेरियासराय टावर पर कॉम श्याम भारती, विश्वनाथ मिश्र, लक्ष्मी पासवान की अध्यक्षमण्डली में सभा हुई। मार्च का नेतृत्व भाकपा जिला मंत्री नारायण जी झा, माकपा जिला मंत्री मंटू ठाकुर, माले जिला सचिव बैद्यनाथ यादव एसयूसीआईसी के सुरेंद्र दयाल सुमन ने किया।

मार्च के समापन पर हुई सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि देश के अंदर साम्प्रदायिक शक्तियां भाजपा नीति नरेंद्र मोदी सरकार ने देश के अंदर साम्प्रदायिकता का उन्माद फैला कर विभिन्न जगहों पर भीड़ तंत्र द्वारा लोगो की हत्या करवाया जा रहा है। योगी राज में बुलन्दशहर में जहां पुलिस इंस्पेक्टर सहित दो की हत्या हुई वही चुनाव आते ही सरकार अपने पूर्व की वादों से लोगो का ध्यान हटाने के लिए राममंदिर की राग अलाप रही है और धर्म के नाम पर लोगो को विभाजित कर रही है। वावा डॉ भीम राव अम्बेडकर द्वारा निर्मित संविधान को इन्ही शक्तियों द्वारा जलाया जा रहा है। भीमा कोरे गांव से लेकर देश के विभिन्न भागों में दलितों अल्पसंख्यको महिलाओं एंव समाज के कमजोर लोगो पर हमला में बेतहासा वृद्धि हो रही है और सरकार द्वारा इन्हें संरक्षण दिया जाता है।

 वामपंथी पार्टिया संयुक्त रूप से देश की साम्प्रदायिकता विरोधी जनवाद पसंद लोगो से अपील करती है कि भाजपा नीति नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ एकजुटता प्रदर्शित कर करारा जबाब दे। सभा को संबोधित करने वालो में डॉ अजित कुमार चौधरी, सीपीएम राज्य सचिव मंडल के सदस्य ललन चौधरी, सीपीआई के राजीव चौधरी, माले वरिष्ठ नेता आरके सहनी, इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद, खेमयू के जिला सचिव दिलीप भगत प्रमुख है। मार्च में माले राज्य कमिटी सदस्य अभिषेक कुमार, किसान महासभा के शिवन यादव, रोहित सिंह, प्रो0 हृषिकेश झा, जनोस के नेता गोपाल ठाकुर, सी0पीआई के शत्रुघ्न झा, आनंद मोहन, हरेकृष्ण राय, शिव कुमार सिंह, माले के जमालुद्दीन, नंद लाल ठाकुर, शनिचरी देवी, रसीदा खातून, अशोक पासवान, केसरी यादव, पप्पू पासवान, रानी शर्मा सहित सैकड़ो लोग शामिल होकर संकल्प लिए।


Spread the news