गम्हरिया में पदाधिकारी की मनमानी, सरकारी योजनाओं में घूसखोरी के खिलाफ धरना प्रदर्शन

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : बुधवार को  गम्हरिया  प्रखंड मुख्यालय पर वाम युवा संगठन एआईवाईएफ  मधेपुरा द्वारा संगठन के जिला सचिव सौरव कुमार की अध्यक्षता व गम्हरिया प्रखंड के कार्यक्रम संयोजक उमाशंकर यादव के संचालन में  प्रशासन विरोधी नारों के साथ धरना प्रदर्शन कार्यक्रम किया गया।मुख्य मार्ग से एआईवाईएफ के बैनर झंडे से लैस संगठन के कार्यकर्ता, दर्जनों की संख्या में महिला पुरुष प्रखंड व अंचल पदाधिकारियों की मनमानी के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए सभी विभागों से गुजरते हुए प्रखंड कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए सीपीआई के जिला मंत्री कामरेड विद्याधर मुखिया ने कहा कि आज कोई विभाग भ्रष्टाचार से नहीं बचा है जो आजादी के सातवें दशक के बाद का सबसे बड़ा दुर्भाग्य है। ऐसा लगता है कि घुस व्यवस्था का हिस्सा बनता जा रहा है। आज छात्र, युवाओं, किसानों, महिलाओं सहित सभी वर्ग के हित में लगातार क्रमबद्ध आंदोलन की जरूरत है। युवा नेता कामरेड शैलेन्द्र यादव ने एआईवाईएफ के आंदोलन का क्रांतिकारी अभिवादन करते हुए कहा कि यह आंदोलन सरकारी विभागों में फ़ैल रही कुव्यवस्था के खिलाफ अंगड़ाई है जो पदाधिकारियों के नहीं चेतने पर बड़ी लड़ाई का रूप अख्तियार करेगी। एआईवाईएफ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य शम्भु क्रांति ने कहा कि दुखद है कि जनहित के योजना अब लूट खसोट के साधन बन गए हैं इस पर चोट की जरूरत है। एआईवाईएफ ऐसी व्यवस्था पर चोट करने को प्रतिबद्ध है। धरना प्रदर्शन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संगठन के जिला अध्यक्ष हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि सरकारी योजनाओं व विभागों में पदाधिकारियों की मनमानी लगातार बढ़ रही है हर विभाग दलालों का घर बन गया है।

 विभिन्न मांगों का मांगपत्र एआईवाईएफ ने बीडीओ कार्यालय को सौंपा : धरना प्रदर्शन के बाद एआईवाईएफ के एक शिष्टमंडल ने जिला अध्यक्ष हर्ष वर्धन सिंह राठौर व जिला सचिव सौरव कुमार के नेतृत्व में बीडीओ अलीशा कुमारी को मांगपत्र सौंपा। दाखिल खारिज, प्रधानमंत्री आवास योजना, नल जल योजना, वृद्धा व विधवा पेंशन, पैक्स में धान खरीदी, खाद बीज उपलब्ध कराने, राशन कार्ड में धांधली के साथ डीलर की मनमानी, विद्यालयों में व्याप्त कुव्यवस्था से जुड़ा मांगपत्र सौंपा और अविलंब पहल की मांग की वार्ता के दौरान शिष्टमंडल में सीपीआई जिलामंत्री विद्याधर मुखिया,युवा नेता शम्भु क्रांति, उमाशंकर यादव, विभा देवी, रीना देवी रही। वार्ता के दौरान दो महिला द्वारा पांच साल से विधवा पेंशन के लिए दौड़ने के बाद भी पेंशन नहीं मिलने,भूमिहीनों को जमीन नहीं उपलब्ध कराने की शिकायत गम्भीरता से उठाई गई।शिष्टमंडल ने साफ शब्दों में कहा कि कारवाई नहीं होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

जिला सचिव सौरव कुमार ने अध्यक्षता करते हुए कहा कि संगठन के जिला परिषद् मधेपुरा द्वारा  विशेष कर प्रखंड व अंचल पर शुरू यह आंदोलन आंदोलन का शंखनाद किया गया है। विभिन्न प्रखंडों में तैयारी जोड़ों पर है। धरना कार्यक्रम को ग्महरिया सीपीआई अंचल मंत्री कामरेड ललन, अजय कुमार, मनोज ने संबोधित करते हुए प्रखंड व अंचल में व्याप्त कुव्यवस्था को उजागर करते हुए बिंदुबार रखा और पहल की मांग की ।

इस अवसर पर अजय  किरन, रीमा, कंचन, स्मतोलिया, सीता, मंजू, संजू, फुलचन,  कारो, रूबी, उर्मिला, गौरी, शंकर, मुकेश, प्रवीण सहित अन्य उपस्थिति रही।

नियाज अहमद उर्फ महताब की रिपोर्ट


Spread the news