दुस्साहस : मजदूरी के लिए मना किया तो दबंगों ने घर पहुंच कर मारी गोली, मौत

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : मजदूरी करने के लिये बुलाने के बाद इंकार करने से क्रोधित होकर दबंगों ने बुधवार को मजदूर को गोली मार दी. गोली लगने से घायल मजदूर का इलाज के दौरान जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में मौत हो गई. मौत के बाद मृतक के परिजनों एवं ग्रामीणों ने मधेपुरा-सिंहेश्वर मुख्य मार्ग को जिला मुख्यालय स्थित कॉलेज चौक पर लगभग एक घंटे तक जाम कर दिया. जाम स्थल पर आक्रोशित परिजन एवं ग्रामीणों के द्वारा घटना में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी एवं उन पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे. मेडिकल कॉलेज एवं जाम स्थल पर उपस्थित सदर थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने आक्रोशित परिजनों से वार्ता कर जाम समाप्त करवाया. लगभग एक घंटे तक चले जाने के कारण आवागमन करने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. इस दौरान वाहनों की लंबी कतार लगी रही.

मजदूरी के लिए मना किया तो दबंगों ने घर पहुंच कर मारी गोली : मधेपुरा सदर थाना क्षेत्र के साहुगढ़ में अहले सुबह लगभग सात बजे दबंगों ने एक मजदूर को गोली मारकर घायल कर दिया गया. घायल व्यक्ति का ईलाज के दौरान जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में मौत हो गयी. इस बाबत मृतक साहुगढ़ कारू टोला वार्ड नंबर पांच निवासी सुरेश यादव के पुत्र अमरदीप कुमार ने बताया कि उनके पिता मजदूरी का काम करते थे. उन्होंने बताया कि स्थानीय निवासी सदानंद यादव नामक के एक दबंग व्यक्ति ने उन्हें अपने घर मजदूरी करने तीन-चार दिनों से बुला रहा था. मृतक के द्वारा मजदूरी करने से मना करने पर बुधवार की सुबह लगभग सात बजे मृतक के घर के पास रामजी यादव, रामानंद यादव व सदानंद यादव पहुंच गये. बातचीत के दौरान रामजी यादव व रामानंद यादव ने उनके पिता सुरेश यादव को पकड़ा और सदानंद यादव ने गोली मार दी. गोली उनके पिता के जांघ में लगी थी. वह जब तक स्थल पर पहुंचता तब तक सभी भाग गये.

पोस्टमार्टम के लिए जाने के दौरान परिजनों ने किया सड़क जाम, परिजनों का है बुरा हाल : मृतक के पुत्र अमरदीप कुमार ने बताया कि गोली लगने के बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल में लाया गया, जहां से चिकित्सकों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुये उन्हें जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल रेफर कर दिया गया और वहां पहुंचते हीं उनकी मौत हो गई. जानकारी मिलते ही सदर थाना की पुलिस ने मेडिकल कॉलेज पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल भेज दिया. सदर अस्पताल जाने के दौरान कॉलेज चौक पर परिजनों के द्वारा शव वाहन को रुकवा कर सड़क जाम कर दिया गया. सदर थानाध्यक्ष के द्वारा कार्रवाई का आश्वासन मिलने पर जाम समाप्त हुआ. इस बाबत सदर थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गई है. अहले सुबह हुये इस घटना से एक तरफ जहां क्षेत्र में सनसनी फैल गई है. वहीं दूसरी तरफ परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है.

अमित कुमार अंशु की रिपोर्ट


Spread the news