40 साल का व्यक्ति 14 साल की लड़की से शादी कर दूसरे राज्य ले जाने की फिराक में था, 6 के विरुद्ध FRI दर्ज, 5 गिरफ्तार

728x90
Spread the news

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : मधेपुरा में इन दिनों धड़ल्ले से शादी के नाम पर मानव तस्करी का काला खेल बदस्तूर जारी है. आए दिन गरीब नाबालिग लड़कियों के परिजनों को पैसे का प्रलोभन देकर पहले तो नाबागिल लड़कियों से शादी की जाती है और शादी के बाद उसे दूसरे राज्यों में ले जाया जाता है. ऐसे ही एक गोरखधंधे का मामला मधेपुरा जिले के मुरलीगंज थाना क्षेत्र से सामने आया है. जहां 40 साल का व्यक्ति 14 साल की लड़की से शादी कर उसे दूसरे राज्य में ले जाने की फिराक में था. लेकिन स्थानीय जनप्रतिनधियों की मदद से स्थानीय बाल विकास परियोजना के पदाधिकारी ने समय रहते ही धर दबोच लिया और सभी को पुलिस के हवाले कर दिया है । मामला मुरलीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत रजनी प्रसादी चौक का बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार मुरलीगंज में इससे क़्बल भी कई गरीब परिवार की लड़कियों की शादी पैसे का प्रलोभन देकर दूसरे राज्य के उम्रदराज लोगों से कराई गई है और शादी के बाद उन लड़कियों का कोई सुराग नहीं है जिससे जाहीर होता है कि यह मामला शादी के नाम पर मानव तस्करी के काला खेल का है। बताया जाता है कि मुरलीगंज थाना क्षेत्र में इन दिनों गरीब घर की नाबालिग लड़कियों को यूपी के उम्रदराज व्यक्ति के साथ शादी के नाम पर सौदा किया जाता है। इस मामले में मुरलीगंज के प्रभारी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी अहमद रज़ा  खान ने मामले में संलिप्त 6 लोगों को नामजद करते हुए मुरलीगंज थाना में केस दर्ज करवाया है।

बाल विकास परियोजना पदाधिकारी ने बताया कि उन्हें बुधवार के शाम 06:20 में सूचना मिली कि रजनी प्रसादी चौक वार्ड 17 स्थित राजो दास के घर पर एक नाबालिग लड़की की शादी काफी उम्रदराज व्यक्ति से जोर-जबरदस्ती कर करवाई जा रही है। सूचना के सत्यापन के लिए जब वह मुरलीगंज थाना के पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे तो देखा कि वहां शादी की प्रक्रिया चल रही है। लड़का से नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम ज्वाला सिंह (40), पिता- रामशरण सिंह, घर- डाभेरी बुजुर्ग, थाना- जिनजाना, जिला- शामली, उत्तर प्रदेश बताया। जबकि लड़की मधेपुरा जिला के बिहारीगंज थाना क्षेत्र के कठोतिया की रहने वाली है और उसकी उम्र 14 वर्ष बताई जा रही है ।

              इस मामले में खुद लड़की ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि उसे रजनी में उनके फूफा के घर उत्तर प्रदेश से आये लड़का 40 वर्षीय ज्वाला सिंह के साथ शादी करने के लिए लाया गया है। जो उसकी उम्र की अपेक्षा काफी उम्रदराज है। लड़की ने यह भी बताया कि उसकी शादी जोर-जबरदस्ती कराने में सहयोग करने के लिए वहाँ के कई स्थानीय लोग भी उस शादी में शरीक हुए । सीडीपीओ अहमद राजा खान ने बताया कि लड़की द्वारा बताए गए सभी लोगों को मुरलीगंज थाना लाया गया। लेकिन लड़की के पिता भाग गया। थाना में लड़की का उम्र विधिवत सत्यापन किया गया तो लड़की का उम्र 14 वर्ष पाया गया जबकि लड़का ज्वाला सिंह का उम्र 40 वर्ष पाया गया।

उन्होंने बताया कि इस मामले में बिहारीगंज थाना क्षेत्र के कठोतिया वार्ड 2 निवासी मो. गफ्फार, जुलेखा खातून, मो. जुबेर तथा कठोतिया वार्ड 1 निवासी जयकृष्ण दास एवं पूर्णिया जिला के जानकीनगर थाना क्षेत्र इस्लामपुर वार्ड 16 निवासी मो. जावेद और उत्तर प्रदेश के शामली जिला के डोभरी बुजुर्ग निवासी ज्वाला सिंह समेत कुल 6 लोगों को नामजद करते हुए प्राथमिकी दर्ज करने के लिए थाना अध्यक्ष को आवेदन दिया गया है।

वही मामले में मुखिया प्रतिनिधि राजीव राजा ने बताया कि उन्हें शाम में सूचना मिली की एक नाबालिग बच्ची की शादी करवाई जा रही है तो उन्होंने इस आशय की सूचना प्रखंड विकास पदाधिकारी, मुरलीगंज थाना अध्यक्ष एवं सक्षम पदाधिकारी को दी और पदाधिकारियों द्वारा मामले को संज्ञान में लेते हुए त्वरित कार्यवाही कर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

बहरहाल इस पूरे मामले में लड़का ज्वाला सिंह समेत चार बिचौलिये को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है जबकि लड़की के पिता जयकृष्ण दास मौके से फरार होने में कामयाब रहा जिसकी तलाश पुलिस कर रही है ।

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें