बिजली के नये प्रीपेड मीटर लगाने में बाधा उत्पन्न करने वाले उपभोक्ता के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : बिजली के नये प्रीपेड मीटर लगाने एवं पुराने मीटर हटाने के दौरान बुधवार को नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड नंबर 17 स्थित लक्ष्मीपुर मोहल्ला में बिजली उपभोक्ता एवं बिजली कर्मी के बीच बहस हो गई. यह बहस घंटों चलती रही. बिजली उपभोक्ता एवं बिजली कर्मी आपस में एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करते रहे. जिसे लेकर लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई. बिजली उपभोक्ता राजू कुमार समेत वहां मौजूद अन्य उपभोक्ताओं ने बिजली विभाग पर आरोप लगाया कि पुराने मीटर की तुलना में नये प्रीपेड मीटर से अधिक बिजली बिल उठता है. विद्युत कर्मी के द्वारा मामले की सूचना विभागीय अधिकारी को दी गई. सूचना मिलते ही मौके पर कनीय विद्युत अभियंता सुशील कुमार समेत अन्य अधिकारी पहुंचकर, विद्युत उपभोक्ता राजू कुमार समेत अन्य विद्युत उपभोक्ताओं को नये प्रीपेड मीटर को लेकर समझाया एवं कार्य चालू करवाया.

उपभोक्ता व कर्मी ने लगाया एक दूसरे पर अभद्र व्यवहार करने का आरोप : बिजली कर्मियों का कहना था कि बिजली उपभोक्ता राजू कुमार के घर पर नये प्रीपेड मीटर लगाने पहुंचे तो उनके द्वारा मीटर लगाने से मना कर दिया गया. उन्होंने कहा कि विभागीय नियम एवं अधिकारियों के द्वारा दिये गये निर्देश के अनुसार बार-बार नये प्रीपेड मीटर लगाने से मना करने एवं बिजली बिल बकाया रहने की स्थिति में उनका विद्युत विच्छेदन कर दिया गया. जिसके बाद बिजली उपभोक्ता राजू कुमार के द्वारा उनसे अभद्र व्यवहार किया गया. वहीं बिजली उपभोक्ता राजू कुमार ने बताया कि उनके ऊपर लगभग चार हजार का बिजली बिल बकाया है. हम बकाया बिल का भुगतान करने के लिए तैयार थे, लेकिन बिजली कर्मी नहीं माने और उनका विद्युत विच्छेदन कर दिया गया और अतिरिक्त शुल्क लेकर नये प्रीपेड मीटर लगाने की बात कही गई. जिस पर उन्होंने राजनीतिक पार्टी के पद पर होने का परिचय दिया तो बिजली कर्मी द्वारा उनसे अभद्र व्यवहार किया गया जिसकी सूचना उन्होंने विभागीय अधिकारी को दी तो उन्होंने भी उनसे अभद्र व्यवहार किया.

शिकायत पर अधिकारियों ने की जांच की बात, गायब हो गये उपभोक्ता : मौके पर मौजूद अधिकारियों के समक्ष स्थानीय दुकानदार गोपाल कुमार ने बताया कि पहले की तुलना में अब उनका लगभग चार गुना अधिक बिजली बिल आता है. जबकि पहले की तरह ही वह बिजली का उपयोग कर रहे हैं बावजूद बिजली बिल अधिक आता है. बिजली उपभोक्ता गोपाल कुमार की शिकायत पर वहां मौजूद अधिकारियों ने जब गोपाल कुमार की मीटर की जांच करने की बात कही तो मौके का फायदा उठाकर गोपाल वहां से गायब हो गया. कनीय विद्युत अभियंता सुशील कुमार ने बताया कि विभागीय निर्देश के अनुसार बकाये बिजली बिल वसूली की जा रही है, जो उपभोक्ता बिजली बिल जमा नहीं कर रहे हैं उनका बिजली कट किया जा रहा है. उपभोक्ताओं के द्वारा नये प्रीपेड मीटर नहीं लगाने वाले का विद्युत विच्छेदन किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि नये प्रीपेड मीटर को लेकर जो गलत बातें कही जा रही है, वह सिर्फ और सिर्फ अफवाह है. किसी भी उपभोक्ता को कोई परेशानी हो रही है तो वह तुरंत विभाग को सूचना दें उनके समस्या का तुरंत निदान किया जायेगा. उपभोक्ता अफवाहों से बचें. अभी शहरी क्षेत्र में मीटर लगाया जा रहा है. आने वाले दिनों में ग्रामीण क्षेत्रों में भी यह मीटर लगाया जायेगा.

मीटर लगाने के दौरान लोगों का किया जागरूक, रिडिंग में नहीं पायी गयी असामनता : बिजली विभाग के द्वारा नये स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने को लेकर लगातार कार्य किया जा रहा है. कार्य लगभग अंतिम चरण पर हैं. बुधवार को नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड नंबर 17 के वार्ड पार्षद अशोक कुमार सिन्हा के आवास पर मीटर लगाया गया एवं अन्य लोगों को जागरूक कर मीटर लगाने को कहा. इस दौरान मौके पर उपस्थित कनीय विद्युत अभियंता सुशील कुमार एवं अन्य अधिकारियों ने वार्ड पार्षद के सहयोग से वार्ड के उपभोक्ताओं से अपील भी किया कि आप भी अपने परिसर में स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगवायें. जिसके बाद स्थानीय निवासी दीपक कुमार, संजय कुमार सिन्हा, रेनू देवी, हरिशंकर प्रसाद, अशोक कुमार ठाकुर, सुनीता देवी, सीता देवी, अमरिंदर सिंह एवं अन्य लोगों के यहां स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाया गया. इनके द्वारा दोनों मीटर का एक साथ लगा कर चेक किया गया. दोनों मीटर का रीडिंग में कोई चेंज नहीं पाया गया.

इस संबंध में विद्युत विभाग के कनीय विद्युत अभियंता सुशील कुमार ने बताया कि उपभोक्ता राजु कुमार के द्वारा सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न किया जा रहा था एवं अफवाह फैलाया जा रहा था, जिसपर विभागीय निर्देशानुसार सदर थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. आगे भी सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले को बख्शा नहीं जायेगा. राजु कुमार के द्वारा जो भी आरोप लगाये गये हैं वह बेबुनियाद एवं निराधार है, जो कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने से बचने के लिये दिया गया है. जबकि राजु कुमार के पिता के कहने पर ही उनके घर का बिजली कनेक्शन कट किया गया.

अमित कुमार अंशु संपादक
अमित कुमार अंशु
संपादक
द रिपब्लिकन टाइम्स

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें