36.52 करोड़ की लागत से हो भवन निर्माण में घोर अनियमिता

728x90
Spread the news

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : प्रखंड मुख्यालय के समीप राजकीय अंबेडकर अनुसूचित जाती आवासीय उच्च विधालय उन्नयन कार्य में अनियमितता की शिकायत पर शनिवार को बीडीओ अनिल कुमार द्वारा  जांच की गई थी। जांच के दौरान काफी लो क्वालिटि के बालू से पीसीसी ढ़लाई व प्लास्टर का कार्य किया जा रहा था। बीडीओ ने अनियमितता को देखते हुए फिलहाल पीसीसी ढ़लाई व पलास्टर कार्य को तत्काल रोकने का निर्देश दिया था । इसके उपरांत बीडीओ अनिल कुमार ने अनियमितता की जांच रिर्पोट डीएम मधेपुरा को प्रेषित कर दिया है। लेकिन पदाधिकारी के निर्देश के बावजूद रविवार को निर्माण स्थल पर उक्त लो क्वालिटि के बालू से ही पीसीसी ढ़लाई व प्लास्टर कार्य किया जा रहा था। करोड़ों की लागत से हो रहे निर्माण कार्य का पब्लिक इन्फोरमेसन बोर्ड अभी तक स्थायी रूप से नही लगा है। बताया गया कि भवनों का निर्माण कार्य लगभग 80 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है।

इतनी बड़ी लागत से हो रहे निर्माण कार्य में गुण नियंत्रक यंत्र का प्रयोग नही किया गया है। अगर भवन निर्माण के उच्च स्तरीय पदाधिकारियों के द्वारा गुणवत्ता की जांच की जाती है तो अनियमितताओं  की हकीकत सामने आ सकता है। स्थानीय लोगों ने भवन निर्माण में कंपनी द्वारा अनियमितता के खिलाफ उच्च अधिकारियों से जांच की मांग की है।

बता दें कि बिहार राज्य भवन निर्माण निगम से अनुसंशित 36 करोड़ 52 लाख 13 हजार 464 प्राक्लित राशि से राजकीय अम्बबेदकर अनुसूचित जाति आवासीय उच्च विधालय के नये भवनों का निर्माण कार्य एनएनटी डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा कराया जा रहा है। 7 फरवरी 2020 को कार्य प्रारंभ किया गया था, 6 अगस्त 2021 तक कार्य समाप्ती की तिथि निर्धारित थी, जो अभी तक निर्माण कार्य पूर्ण नही हो सका है। लोगों ने बताया कि इतना बड़ा निर्माण कार्य में कनीय अभियंता कार्य स्थल से गायब रहते हैं। जिस कारण एनएनटी कंपनी के कर्मी मनमाने तरीके से निर्माण कार्य कराते है।

निर्माण स्थल पर एनएनटी कंपनी के प्रतिनियुक्त कर्मी व साइट इंजीनियर ने बताया कि गुणवत्ता पूर्ण कार्य करवाया जा रहा है और सही मेटेरियल का प्रयोग हो रहा है।

वहीं बीडीओ अनिल कुमार ने बताया कि लो क्वालिटि व लाल मिट्टी युक्त बालू के डस्ट से पीसीसी ढ़लाई और प्लास्टर कार्य कराया जा रहा था। कार्य में अनियमितता देखी गयी। जिसका जांचकर जांच रिर्पोट जिलाधिकारी मधेपुरा को भेजे है।

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें