लूटपाट की घटना को अंजाम देने से पहले पुलिस के हत्थे चढ़े पांच अपराधी

728x90
Spread the news

मधेपुरा (बिहार) : जिले के गम्हरिया थाना क्षेत्र में अपराध करने के नियत से जुटे पांच अपराध कर्मियों को गम्हरिया थाना पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया. गम्हरिया प्रभारी थानाध्यक्ष जयंत कुमार को सूचना मिली कि कुछ अपराध कर्मी लूटपाट करने के उद्देश्य एवं अपराधिक घटना को अंजाम देने की नियत से जुटे हुए हैं. घटना की सूचना मिलते हैं गम्हरिया थानाध्यक्ष जयंत कुमार दल बल के साथ सूचना मिले स्थल पर पहुंचे. पुलिस को देखकर वहां मौजूद अपराधी भागने लगे, लेकिन थानाध्यक्ष समेत पुलिस वालों की तत्परता किस कारण तत्काल तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तारी के बाद तीनों अपराधियों से पूछताछ के बाद उन्होंने अपने दो अन्य साथियों का भी नाम बताया. जिसके बाद पुलिस के द्वारा छापेमारी कर दो अपराधियों को भी गिरफ्तार किया गया. इन अपराधियों के पास से लोडेड पिस्टल एवं लोडेड देसी कट्टा बरामद किया गया है. साथ ही इन लोगों के पास से पांच मोबाइल एवं एक मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया है. इस आशय की जानकारी मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने दी.

अवैध हथियार से लैस होकर अपराधी बड़ी वारदात को अंजाम देने की बना रहे थे योजना : पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि गम्हरिया थाना अंतर्गत सोमवार को संध्या गश्ती, वाहन चेकिंग एवं अधिसूचना संकलन के दौरान गम्हरिया थानाध्यक्ष जयंत कुमार को गुप्त रूप से सूचना प्राप्त हुई की बटौआ ग्राम से कुछ आगे पुल के पास कुछ अपराधी अवैध हथियार से लैस होकर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं. सूचना के सत्यापन एवं आवश्यक कार्रवाई के लिए छापेमारी दल का गठन करते हुए घटनास्थल पर पहुंचकर घेराबंदी कर तीन व्यक्तियों को पकड़ लिया गया. वहीं कुछ अपराधी पुलिस को देख कर भागने में सफल रहे. गिरफ्तार अपराधियों की तलाशी लेने पर सहरसा जिले के बिहरा थाना अंतर्गत खोनहा वार्ड नंबर 10 निवासी राजेंद्र यादव के पुत्र इलेंद्र कुमार के पास से लोडेड एक देशी पिस्तौल एवं एक मोबाईल फोन बरामद हुआ. वहीं दूसरी अपराध कर्मी सहरसा सहरसा जिले के बिहरा थाना अंतर्गत खोनहा वार्ड नंबर 14 निवासी छोटे लाल यादव के पुत्र रंजय कुमार की तलाशी लेने पर उसके पास से एक लोडेड देशी कटटा एवं एक मोबाईल फोन बरामद किया गया. जबकि तीसरे अपराध कर्मी सहरसा जिले के बिहरा थाना अंतर्गत खोनहा वार्ड नंबर 14 निवासी बद्री यादव के पुत्र सुमन कुमार के पास से एक मोटर साईकिल बरामद किया गया.
अपराधकर्मीयों की गिरफ्तारी से घटने से बच गई एक बड़ी अपराध की घटना : पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि गिरफ्तार तीनों अपराधियों से पूछताछ करने पर अपने दो अन्य सहयोगी का भी नाम बताया, जो घटना स्थल पर से छापेमारी के दौरान भागने में सफल रहे थे. अपराधकर्मियों के सहयोगियों की गिरफतारी में संभावित ठिकानों पर छापामारी की गयी. छापामारी के क्रम में अपराधकर्मी जिले के सिंहेश्वर थाना अंतर्गत कटैया निवासी शत्रुघ्न शर्मा के पुत्र विशाल कुमार उर्फ लंबू को पुलिस द्वारा गिरफतार किया गया. जिसके पास से दो मोबाईल फोन बरामद हुआ. इसके पश्चात पुलिस के द्वारा अग्र छापामारी के क्रम में अपराधकर्मी जिले के गम्हरिया थाना अंतर्गत सिंहपुर निवासी बेचन सादा के पुत्र संजय सादा को गिरफतार किया गया. जिसके पास से एक मोबाईल फोन बरामद हुआ. पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी कर्मी सिंहेश्वर के विशाल कुमार उर्फ लंबू एवं गम्हरिया के संजय सादा का पूर्व से भी अपराधिक इतिहास रहा है. वहीं सहरसा जिले के बिहरा थाना के इलेंद्र कुमार, रंजय कुमार एवं सुमन कुमार का स्थानीय थाना से संपर्क करके अपराधिक इतिहास की जानकारी ली जा रही है. उन्होंने बताया कि गम्हरिया थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष जयंत कुमार ने अपना साहस पूर्ण परिचय देते हुए जो कार्य किया है, उससे एक बड़ी अपराध की घटना, घटने से बच गई.
अमित कुमार अंशु संपादक
अमित कुमार अंशु
संपादक
द रिपब्लिकन टाइम्स