मुरलीगंज के रामपुर में 551 कुंवारी कन्याओं ने निकाली कलश यात्रा

728x90
Spread the news

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : शारदीय नवरात्र के शुरू होते ही प्रखंड के सभी दुर्गा मंदिरों में विधि-विधान के साथ गुरुवार को कलश स्थापित की गई। विभिन्न दुर्गा मंदिरों के अलावा लोगों द्वारा अपने-अपने घरों में कलश स्थापित कर भक्ति भाव से मां शैलपुत्री की पूजा अर्चना की गई।

Republican Times II कलश स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र शुरू, मंदिरों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

वहीं प्रखंड अंतर्गत रामपुर पंचायत स्थित दुर्गा मंदिर में कलश स्थापना को लेकर कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा में 551 कुंवारी कन्याओं ने मंदिर परिसर से चलकर गांव के विभिन्न मार्ग होते हुए बलुवाहा नदी पहुंच पवित्र कलश में जल भरकर पुन: मंदिर परिसर पहुंचकर समाप्त किया। कलश यात्रा में शामिल महिलाएं एवं लड़कियों के द्वारा उठाए गए सभी पवित्र कलशों को विधि विधान के साथ रखा गया। वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच पंडित मधुसूदन झा ने धार्मिक अनुष्ठान कराए। हिन्दू मान्यता के अनुसार कुंवारी कन्याओं का इस पूजा में विशेष महत्व है। ऐसी मान्यता है कि कलश के मुख में सभी देवी- देवताओं का वास होता है। इस कारण कलश यात्रा का अपना एक अलग धार्मिक महत्व है।

कलश यात्रा में मेला समिति के सभी सक्रिय सदस्य, युवा सहित गांव के कई गणमान्य लोग मौजूद थे।

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें