ITICAT-2021 बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा 05 सितंबर को

728x90
Spread the news

मुजफ्फरपुर/बिहार : ITICAT ,2021 बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद द्वारा ली जाने वाली  प्रतियोगिता परीक्षा 05 सितंबर (रविवार) को मुजफ्फरपुर जिले के 28 परीक्षा केंद्रों पर 11 बजे पूर्वाहन से 1:15बजे अपराह्न तक आयोजित की जाएगी।

Advertisement

 कदाचार मुक्त एवं शांतिपूर्ण परीक्षा संचालन के मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा माकूल व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। विधि व्यवस्था संधारण एवं स्वक्ष कदाचार रहित एवं शांतिपूर्ण ढंग से परीक्षा के संचालन हेतु कुल 10 पेट्रोलिंग मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति की गई है। प्रत्येक परीक्षा  केंद्रों पर स्वच्छ एवं शांतिपूर्ण परीक्षा संचालन के मद्देनजर कुल 53  स्टैटिक दंडाधिकारी- सह -प्रेक्षक को प्रतिनियुक्त किया गया है। सारंग मणि पांडे, विकास कुमार, विवेक कुमार, नीलम कुमारी, प्रीति सिंह, सहला मुस्तफा (सभी वरीय उप समाहर्ता) को उड़नदस्ता दंडाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्ति की गई है।

 शांतिपूर्ण व कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के मद्देनजर अपर समाहर्ता-सह- अपर जिला दंडाधिकारी राजेश कुमार ने प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों, पुलिस अधिकारियों और केंद्र अधीक्षकों की ब्रीफिंग की। उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारी, दंडाधिकारी और केंद्र अधीक्षक अपने -अपने कर्तव्यों का निर्वहन पूरी गंभीरता के साथ करेंगे। किसी भी स्तर पर कदाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण परीक्षा के संचालन के मद्देनजर दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति करने के साथ जिला नियंत्रण कक्ष स्थानीय पीआईआर में स्थापित किया गया है जिसका दूरभाष संख्या -0621-2212 377 एवं 2216275 है ।

बताया गया कि जिला नियंत्रण कक्ष 05-09-2021 को प्रातः 6 बजे से कार्यरत रहेगा। परीक्षा में उम्मीदवारों के बैठने की व्यवस्था कोविड-19 के निर्देशों के अनुपालन में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए की जाएगी। किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में मोबाइल फोन, कैलकुलेटर, ब्लूटूथ, वाईफाई गैजेट, इलेक्ट्रॉनिक पेन, पेजर, स्मार्ट वॉच इत्यादि जैसी इलेक्ट्रॉनिक सामग्री तथा व्हाइटनर, ईरेजर और ब्लेड जैसी सामग्री ले जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। यदि ऐसा करते हुए कोई पाए जाते हैं तो उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी।

 स्पष्ट बताया गया कि यदि परीक्षार्थी कदाचार करते पाए गए तो बिहार परीक्षा संचालन अधिनियम 1981के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी। संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी एवं संबंधित पुलिस उपाधीक्षक अपने-अपने क्षेत्र में विधि व्यवस्था के प्रभार में रहेंगे। राजेश कुमार अपर समाहर्ता तथा राम नरेश पासवान, पुलिस अधीक्षक नगर, पूरी परीक्षा के दौरान विधि व्यवस्था के वरीय प्रभार में रहेंगे।

अंजुम शहाब
ब्यूरो
मुजफ्फरपुर

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें