विभिन्न मांगों को लेकर जाप छात्र परिषद का BNMU में हल्लाबोल प्रदर्शन, मुख्य द्वार पर जड़ा ताला

Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : बीएनएमयू के पूर्व कुलसचिव के कार्यकाल में हुए अवैध बहाली की उच्चस्तरीय जांच एवं हरिहर साहा महाविद्यालय उदाकिशुनगंज के प्राचार्य डा रामनरेश सिंह पर महिला कर्मियों द्वारा गंभीर एवं संगीन आरोप लगाए जानें के चार माह बीत जानें पर भी कोई करवाई नहीं होने सहित अन्य मांगो को लेकर बुधवार जन अधिकार छात्र परिषद के द्वारा विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार में तालाबंदी कर हल्ला बोल प्रदर्शन किया गया. आक्रोशित कार्यकर्ता सुबह 11 बजे से ही भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर तालाबंदी कर धरना पर बैठ गये. आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने जमकर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी किया. इस दौरान बीएनएमयू कुलपति प्रो डा राम किशोर प्रसाद रमण समेत विश्वविद्यालय के कई आलाधिकारी बाहर फंसे दिखे और अंदर जाने की जद्दोजहद में दिखे. छात्र नेताओं से काफी वार्ता के बाद कुलपति को पैदल ही विश्वविद्यालय के अंदर प्रवेश करने दिया गया. कुलपति के गाड़ी को गेट के अंदर प्रवेश करने नहीं दिया गया.Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co

तालाबंदी के करण शाम तक परेशान रहे छात्र, दीवाल कूदकर किया अंदर-बाहर : प्रदर्शन के कारण विश्वविद्यालय में विभिन्न कार्यों के लिए पहुंचे छात्र-छात्राओं को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. सुबह 10 बजे विश्वविद्यालय पहुंचे छात्र शाम तक प्रदर्शन खत्म होने का इंतजार करते रहे. जो छात्र विश्वविद्यालय परिसर के अंदर प्रवेश कर चुके थे, वह बाहर निकालने के लिए और जो बाहर खड़े थे, वह अंदर जाने के लिए परेशान दिखे. इस दौरान कई छात्र दीवाल से कूदकर अंदर-बाहर करते दिखे. समाचार लिखे जाने तक आक्रोशित कार्यकर्ता मुख्य द्वार पर तालाबंदी कर, जमे थे. प्रदर्शन के दौरान वार्ता के लिए कुलसचिव डा मिहिर कुमार ठाकुर, कुलानाशक डा बीएन विवेका समेत अन्य आलाधिकारी प्रदर्शन स्थल पर पहुंचे, लेकिन बेरंग लौटना पड़ा.

कार्यक्रम की अध्यक्षता छात्र जाप के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार बिट्टू एवं विश्वविद्यालय अध्यक्ष अमन कुमार रितेश ने किया. जिलाध्यक्ष रौशन बिट्टू एवं विवि अध्यक्ष अमन रितेश ने कहा कि पूर्व कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव के कार्यकाल समाप्त होने के चार दिन पूर्व विभिन्न महाविद्यालयों में 32 शिक्षकेत्तर कर्मचारियों बहाली किस परस्थिति में और किस आधार पर किया गया ह, उसकी जांच अविलंब कर, सभी पदों को निरस्त किया जाय, नहीं तो छात्र परिषद अनवरत आंदोलन करते रहेगी.Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co

किसके दवाब में आरोपी प्राचार्य को बचा रही है विश्वविद्यालय प्रशासन : विश्वविद्यालय उपाध्यक्ष सुशील कुमार, नगर अध्यक्ष सामंत यादव एवं राजू कुमार मन्नू ने कहा कि हरिहर साहा महाविद्यालय उदाकिशुनगंज के प्रभारी प्राचार्य डा राम नरेश सिंह पर महिला कर्मियों द्वारा लगाये गये गंभीर एवं संगीन आरोप को चार माह बीत जाने पर भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. आखिर किसके दवाब में आरोपी प्राचार्य को विश्वविद्यालय प्रशासन बचा रही है. छात्र नेता अजय सिंह यादव, प्रखंड अध्यक्ष मिथुन यादव एवं सुशांत यदुवंशी ने कहा कि सभी सरकारी महाविद्यालय में एक समान शुल्क नहीं लिया जा रहा हैं. अभिनाश सिंह, महासचिव अजय कुमार एवं पिंटू यादव ने कहा कि छात्र जाप के आंदोलन के बाद ही विश्वविद्यालय प्रशासन की नींद खुलती है. आखिर छात्रों के सवालों पर कब तक कुंभकर्णी निंद्रा में सोई विश्वविद्यालय की आंखे खुलेगी.

मौके पर निगम राज, आर्य रोशन, अनुज आर्या, विवेक यादव, इरफान, सलाम, सोनू बाबू, प्रखंड अध्यक्ष सतीश यादव, युवा रंजन, कार्यलय उपसचिव शैलेंद्र कुमार, विकास, राजा, मनीष यादव, अनोज रोकी, पावेल कुमार, त्रिलोकी मिश्रा, बिपिन कुमार सहित सैंकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे.

वहीं इस बाबत बीएनएमयू कुलपति, प्रो डा राम किशोर प्रसाद रमण ने कहा कि हरिहर साहा महाविद्यालय उदाकिशनगंज के प्रभारी प्राचार्य डा रामनरेश सिंह पर लगाए गए आरोप को लेकर जांच कमेटी बन चुकी है और जांच प्रतिवेदन भी एक से दो दिन में मिल जायेगा. उसके बाद सम्यक समिक्षोपरांत उचित कार्रवाई की जायेगी. साथ ही विश्वविद्यालय में कोई अवैध नियुक्ति नहीं हुई है. यदि कोई अवैध नियुक्ति हुई है, तो उसका जांच करा कर, उसे निरस्त कर दिया जायेगा.

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें