केन्द्र और प्रदेश की तानाशाह भाजपा सरकार में लगातार पत्रकारों को ही निशाना बनाया जा रहा है – अजय दीक्षित

Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मैनपुरी/उत्तर प्रदेश (Press Release) : केंद्र सरकार की दमनकारी नीतियों के विरुद्ध मैनपुरी के पत्रकारों ने लामबंद होकर जमकर अपनी भड़ास निकाली। दैनिक भास्कर और भारत समाचार के चीफ एडिटरों के यहां भाजपा सरकार द्वारा आयकर विभाग के ताबड़तोड़ छापे मारे जाने से इंडियन जनरलिस्ट एसोसिएशन के बैनर तले दर्जनों की संख्या में पत्रकार तिकोनिया पार्क में एकत्रित हुए। इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश सचिव और जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में पत्रकारों ने महामहिम राष्ट्रपति महोदय एवं राज्यपाल के नाम जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश सचिव पत्रकार साकिब अनवर चिश्ती और जिला अध्यक्ष अजय दीक्षित के नेतृत्व  में दर्जनों की संख्या में पत्रकार  कलेक्ट्रेट के तिकोनिया पार्क में एकत्रित हुए। पत्रकारों को संबोधित करते हुए प्रदेश सचिव साकिब अनवर चिश्ती ने कहा कि मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है। भारत में मीडिया ने लोकतांत्रिक परंपराओं और जनतंत्र की रक्षा के लिए निस्वार्थ अपना बढ़-चढ़कर योगदान दिया है। लोकतंत्र के रक्षक और समाज के सजग प्रहरी के रूप में पत्रकारों ने अपनी भूमिका का सफलतापूर्वक निर्वहन किया है। किंतु गत कई वर्षों से पत्रकारों के साथ आए दिन संगीन वारदातें हो रही हैं। कहीं अराजक तत्वों द्वारा पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी जाती है, तो कहीं शासन और प्रशासन के लोग पत्रकारों पर टूट पड़ते हैं। पत्रकार को जहां सम्मान मिलना चाहिए वहां उनका अपमान किया जा रहा है। प्रदेश और केंद्र में जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई है, तब से पत्रकारों के साथ कहीं अपहरण तो, कहीं हत्या, कहीं उन पर जानलेवा हमला किया जा रहा है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का अस्तित्व पूरी तरह से खतरे में है।

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष अजय दीक्षित ने कहा कि मीडिया की आजादी लगातार खतरे में पड़ती जा रही है। लोकतंत्र की सुरक्षा और जनतांत्रिक परंपराओं पर असर पड़ रहा है। प्रदेश और केंद्र की तानाशाह भाजपा सरकार में लगातार पत्रकारों को ही निशाना बनाया जा रहा है। दैनिक भास्कर और भारत समाचार के चीफ एडिटर बृजेश मिश्रा ने आंकड़ों सहित कोविड-19 के समय हुई मौतों, और बेरोजगारी को लेकर लगातार खुलासे क्या किए की सरकार उनकी विरोधी हो गई। भाजपा सरकार के इशारे पर लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले दैनिक भास्कर और भारत समाचार के चीफ एडिटरो के यहां आयकर विभाग के छापे डलवाने शुरू कर दिए। उत्तर प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकार कुछ भी कर ले, पत्रकारों की कलम जो निस्वार्थ और देश के लिए चलती है उसे किसी भी हालत में रोका नहीं जा सकता है। जिला अध्यक्ष ने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को पूरी आजादी दी जाए। ताकि वे देश के दुश्मनों के विरुद्ध अपनी निर्भीकता से कलम चला सके। इसके बाद इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने दर्जनों की संख्या में पत्रकारों के साथ जिले के जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह को महामहिम राष्ट्रपति एवं महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

इस मौके पर अनिल कुमार शाक्य, प्रमोद झा, दीपक शर्मा, विशाल शर्मा, आफाक अली, प्रमोद पांडे, देवेंद्र कुमार, गौरव पांडे, अंकित शुक्ला अच्छा, अरुण यादव, आलोक पांडे, सुखबीर यादव, कैलाश गुप्ता, रामपाल, प्रदीप कुमार, मनोज कुमार, सहित सैकड़ों पत्रकार मौजूद रहे।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें