मधेपुरा : जिले में 18 से 44 वर्ष तक के लोगों का टीकाकरण शुरू, इन सेंटरों पर उपलब्ध है वैक्सीन

मधेपुरा : जिले में 18 से 44 वर्ष तक के लोगों का टीकाकरण शुरू, इन सेंटरों पर उपलब्ध है वैक्सीन
728x90
Spread the news

 मधेपुरा/बिहार :  बढ़ते संक्रमण के बीच रविवार से जिला पदाधिकारी श्याम बिहारी मीना के मार्गदर्शन में जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं सदर अस्पताल में 18 से 44 वर्ष तक के लोगों का कोविड टीकाकरण सफलतापूर्वक किया जा रहा है. टीका को लेकर युवाओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है. इस चरण में 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक की उम्र वाले सभी लोगों को वैक्सीन दिया जा रहा है. इसके लिए जिले के स्वास्थ्य विभाग को छ सौ वैक्सीन वाइल यानी छह हजार डोज उपलब्ध करायी गई है. ऐसे लोगों को चिन्हित कर सूची तैयार करने की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है.

अभियान शुरू होने के साथ ही इस आयु वर्ग के दायरे वाले बीमार एवं सामान्य सभी लोगों के पिछले चरण की भांति रजिस्ट्रेशन कर वैक्सीन देने का कार्य शुरू हो चुका है. मालूम हो कि कोरोना का टीकाकरण 16 जनवरी से शुरू किया गया था. अब तक जिले में लगभग दो लाख व्यक्तियो को टीका दिया गया है. जिले में अब तक सरकार ने केवल स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन कर्मियों एवं 45 वर्ष से लेकर 60 वर्ष तक के ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण की अनुमति दी थी. वहीं रविवार से से 18 से 44 वर्ष के लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है.

वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कराना है जरूरी : वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है. सिविल सर्जन डा अमरेंद्र नारायण शाही ने बताया कि वैक्सीन लेने के लिए सभी लोगों को पहले रजिस्ट्रेशन कराना होगा. रजिस्ट्रेशन के बाद ही वैक्सीन दी जायेगी .इसके लिए सभी लोगों को रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है. आधार कार्ड एवं मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रेशन किया जायेगा. उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने के लिए सभी तैयारियां पिछले दिन ही पूरी कर ली गई थी. जिले के सभी पीएचसी प्रभारी को आवश्यक निर्देश भी दिया गया था. जिससे कि वैक्सीनेशन अभियान के दौरान किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन शुरू होने के कारण टीकाकरण सत्र पर अधिक भीड़ होने की संभावना थी. इसलिए टीकाकरण स्थल में भीड़ नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा गार्ड की ड्यूटी लगाई गई है.

वैक्सीनेशन के पूर्व कोरोना जांच जरूरी : सिविल सर्जन डा अमरेंद्र नारायण शाही ने बताया कि वैक्सीनेशन के पूर्व सभी लोगों को कोविड-19 जांच भी की जा रही है. जिससे कि सुरक्षा के मद्देनजर किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न नहीं हो और सभी लोग खुद को सुरक्षित महसूस कर वैक्सीनेशन करा सके. इसके लिए सभी वैक्सीनेशन सेंटर पर जांच की सुविधा उपलब्ध कर दी गई है.

इन सेंटरों पर उपलब्ध है वैक्सीन :  जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में 40 वायल, सदर अस्पताल में 110 वायल, आलमनगर पीएचसी में 40 वायल, बिहारीगंज पीएचसी में 40 वायल, चौसा पीएचसी में 30 वायल, गम्हरिया पीएचसी में 30 वायल, घैलाढ़ पीएचसी में 30 वायल, ग्वालपाड़ा पीएचसी में 30 वायल, कुमारखंड सीएचसी में 40 वायल, मुरलीगंज पीएचसी में 40 वायल, मुरहो पीएससी में 30 वायल, पुरैनी पीएचसी में 30 वायल, शंकरपुर पीएचसी में 30 वायल, सिंहेश्वर पीएचसी में 40 वायल, उदाकिशुनगंज पीएचसी में 40 वायल उपलब्ध है. वहां व्यस्क टीका ले सकते हैं.

ऐप के माध्यम से हो रहा है रजिस्ट्रेशन : वैक्सीन की पहली खुराक के लिए अस्पताल जाने से पहले लोगों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा. वैक्सीनेशन के लिए आरोग्य सेतु एप एवं कोविन प्लेटफार्म पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. कोविन साइड के लिए कोई ऐप नहीं है और रजिस्ट्रेशन केवल वेबसाइट के जरिए ही हो सकता है इसके लिए कोविन प्लेटफार्म एवं आरोग्य सेतु एप पर 28 अप्रैल से ही रजिस्ट्रेशन की शुरुआत हो गई है.

ऐसे करें रजिस्ट्रेशन :

.कोविड पोर्टल आरोग्य सेतु एप रजिस्टर /साइन इन क्लिक करें

. मोबाइल नंबर या आधार नंबर डालें.

. 10 अंको का ओटीपी मिलेगा.

. साइट पर ओटीपी वाले और वेरीफाई क्लिक करें.

. मांगे गए सभी विवरण दर्ज करें और रजिस्टर पर क्लिक करें.

. इसके बाद शेड्यूल का विकल्प आएगा, जिसे भरने के बाद रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जायेगी.

. इसके बाद यूजर को रिफरेंस आईडी मिलेगा, जिससे वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी मिल सकेगा.

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें