हजरत अमीरे शरियत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी के स्वर्गवास पर शोक की लहर

728x90
Spread the news

नालंदा/बिहार : जिले में इमारत-ए-शरिया बिहार, झारखंड व उड़ीसा के नाजिम व ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी हजरत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी साहेब का शनिवार दोपहर को स्वर्गवास हो गया है। इनके स्वर्गवास की सूचना पूरे जिले में जंगल की आग की तरह फैल गई और जिले में मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच शोक की लहर दौड़ गई।

बताया जाता है कि अमीरे शरियत व पर्सनल ला बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी और रहमानी थर्टी के संस्थापक हजरत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी साहब एक हफ्ते से बीमार चल रहे थे लेकिन शनिवार को अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद पटना के पारस अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था और इलाज के दौरान ही आखरी सांस ली और उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। इनके जनाजे की नमाज रविवार 4 अप्रैल 2021 को 11:00 दिन में खानकाह रहमानी मुंगेर में पढ़ी जाएगी।

advertisement

समाचार लिखे जाने तक शोक संदेश प्राप्त होने का सिलसिला लगातार जारी था। शोक संदेश देने वालों में बिहार शरीफ के काजी हजरत मौलाना मुफ्ती मंसूर आलम कासमी, सोगरा कॉलेज के सचिव जाकिर हुसैन अधिवक्ता,सोगरा बकफ स्टेट के प्रभारी मतवाली मुख्तार उल हक, जिला औकाफ कमेटी के सचिव सुल्तान अंसारी, रोजमेरी लैंड स्कूल के संस्थापक अंसार रिजवी, अंजुमन मुफिदुल इस्लाम के अकबर आजाद, अमीन खान, मुस्लिम डेवलपमेंट कमिटी के शकील देशनबी, जमील अशरफ जमाली, कांग्रेस के मीर अरशद हुसैन, मोहम्मद फवाद आलम, इंसाफ मंच के सैयद जफर एडवोकेट, सरफराज खान, जदयू के मुन्ना सिद्धिकी, मोहम्मद आफताब, राजद के मोहम्मद खुर्शीद अंसारी,मास्टर कफिल अंसारी, एसडीपीआई के शमीम अख्तर, अलमीर फाउंडेशन के सद्दाम हुसैन, ब्लड ग्रुप के कमरान अशर्फी के अलावा सैकड़ों लोगों ने इनके निधन पर दुख व्यक्त करने वालों में शामिल हैं।

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें