होली व शब-ए-बारात के मद्देनजर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक

Photo : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मुजफ्फरपुर/बिहार : जिलाधिकारी प्रणव कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में होली व शब-ए-बारात तथा आगे आने वाले अन्य पर्व-त्योहार शांतिपूर्ण एवं आपसी भाईचारे के साथ मनाने के लिए जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक, नगर अधीक्षक, अपर समाहर्ता, दोनों अनुमंडल पदाधिकारी अन्य पुलिस पदाधिकारी के साथ जिला शांति समिति के सदस्य गण एवं शहर के प्रबुद्ध जन उपस्थित थे।

बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने कहा कि मुजफ्फरपुर जिला गंगा- जमुना तहजीब का नयाब उदाहरण है। कहा कि जिले में सभी लोग मिल -जुल कर त्योहारों को मनाते हैं। सभी पर्व त्योहार आपसी भाईचारे प्रेम एवं सद्भाव के साथ मनाया जाता रहा है। इसमें शांति समिति के सदस्यों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होंने उपस्थित शांति समिति के सदस्यों एवं अन्य प्रबुद्ध जनों से अनुरोध किया कि आगामी होली और शब-ए-बरात का पर्व भी आपके सहयोग से शांतिपूर्ण और सद्भाव पूर्ण वातावरण में  मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि शांति समिति के सदस्य अपने-अपने क्षेत्रों में व्यवस्थाएं बनाए रखने में सक्रिय भागीदारी निभाते रहे हैं और इस बार भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका अपेक्षित है।

 जिलाधिकारी ने कहा कि होली के त्यौहार पर किसी प्रकार की अनहोनी ना हो इसके लिए जिले के सभी पदाधिकारी को सचेत कर दिया गया है। कहा कि शांति समिति के सदस्य एवं जिले के नागरिक शांति के लिए कटिबद्ध रहेंगे तो यह त्यौहार भी पूर्व की भांति शांतिपूर्ण वातावरण में पुनः मनाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक स्तर पर भी सारी तैयारियां मुकम्मल कर ली गई हैं, पवित्र होली त्यौहार के अवसर पर जिले वासी गंगा-जमुना तहजीब को कायम रखेंगे, कहा कि इस त्योहार के अवसर पर कोई अप्रिय घटना ना हो उसके लिए जिला प्रशासन सजग और सचेत है।

वहीं वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत ने भी शांति समिति के सदस्यों के द्वारा सुझाए गए महत्वपूर्ण सुझावों को नोट किया गया और उन्होंने आश्वस्त किया कि इन सुझावों के आलोक में अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी। शांति समिति के सदस्यों ने शहर में साफ-सफाई, बिजली की स्थिति, रौशनी की उपलब्धता, असामाजिक तत्वों के विरुद्ध कार्रवाई करना, हुड़दंगियों पर नकेल कसने तथा अन्य महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए। जिस पर कहा गया कि  होली एवं अन्य त्योहारों के अवसर पर असामाजिक तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है। डीजे पर पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करने वाले लोगो के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फैलाने वाले, भ्रामक खबर परोसने वाले के विरुद्ध विभिन्न प्रावधानों के तहत विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापन

 बैठक के आखिर में जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने जिले वासियों को होली की शुभकामनाएं देते हुए अपील किया कि सभी लोग शांति, सद्भाव एवं आपसी भाईचारे के साथ होली एवं शब-ए- बरात पर्व को मनावे। साथ ही सभी लोग कोविड-19 गाइडलाइन का अक्षरशःपालन करें, मास्क का उपयोग करें,सोशल डिस्टेंसिंग को भी मेंटेन रखें।

बैठक में अब्दुल मजीद, शंकर कुमार सिंह, इरफान अहमद दिलकश, केपी पप्पू, नरेंद्र पटेल, गोपाल कृष्ण, सोनू सिंह, वसीर उल हक रिजवी, शीतल गुप्ता, प्रोफेसर शब्बीर, इरशाद हुसैन गुड्डू ,परवेज अख्तर चांद, धर्मेंद्र कुमार, कुणाल सहाय, शंकर कुमार सिंह, रेयाज अंसारी, शंकर महतो, नेहाल अहमद, उदय शंकर प्रसाद सिंह, मुख्य पुजारी गरीब नाथ मंदिर इत्यादि उपस्थित थे।

अंजुम शहाब
ब्यूरो
मुजफ्फरपुर

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें