मधेपुरा : शहर में शौचालय निर्माण, कूड़ा कचरा उठाव पर जिला प्रशासन की उदासीनता दुखद-राठौर

Spread the news

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : छात्र संगठन एआईएसएफ व युवा संगठन एआईवाईएफ के प्रतिनिधियों ने सदर एसडीएम को आवेदन लिख जिले की विभिन्न समस्याओ के समाधान हेतु यथाशीघ्र पहल की मांग की है।

एआईएसएफ के राज्य उपाध्यक्ष सह बीएनएमयू प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि स्थापना के चार दशक के सफर में मधेपुरा ने रेलवे विद्युत इंजन कारखाना, मेडिकल कॉलेज, विश्वविद्यालय के साथ राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय फलक पर अपनी पहचान बनाई, लेकिन स्थानीय स्तर पर स्थानीय व बाहरी लोगों को मूलभूत सुविधाएं देने में सफल नहीं हो पाया। लगातार मांग के बाद भी जिला मुख्यालय में सुलभ शौचालय निर्माण की पहल नहीं हुई। कूड़ा कचरा उठाव को लेकर कई वादों के बाद भी सार्थक कोशिश नहीं हो पाई । वर्ष 2011 में संगठन की मांग से भूपेंद्र चौक और कर्पूरी चौक पर लगे नो एंट्री के खत्म होने से मुख्य बाजार में जाम आम बात हो गई है। काफी समय से बनकर तैयार समाहरणालय के समीप जिला का ऑडिटोरियम व जिला के पश्चिम बने शव दाह गृह शुरू नहीं होने के कारण जहां एक ओर कलाकारों को ऑडिटोरियम का लाभ नहीं मिल पा रहा है वहीं यत्र तत्र शव जलाने से जिला वासियों को खासा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अभी तक बाजार के खराब हो चुके वेपर की मरम्मती व नहीं बदलने के कारण अंधेरा का लाभ उठाकर चोरी, छिंतैय आए दिन होते रहते हैं। इन समस्याओं का निदान कर जहां आम लोगों को कई स्तरों पर लाभ मिलेगा वहीं वहीं जिला मुख्यालय पर लंबे समय से लगे बदहाली का टीका भी हटेगा । 

एआईवाईएफ के राष्ट्रीय परिषद् सदस्य शंभू क्रांति ने कहा कि यह दुखद है कि विभिन्न स्तरों पर अपनी अलग पहचान रखने वाला मधेपुरा अत्यावश्यक सुविधाओं की सुविधा लोगों को देने में सक्षम नहीं हो पा रहा है। शौचालय नहीं होने के कारण खासकर लड़कियों व महिलाओं को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है, वहीं अन्य समस्याएं भी कम नहीं है, जल्द से जल्द इसके निदान की जरूरत है। एआईएसएफ संयुक्त जिला सचिव सौरभ कुमार ने कहा कि संगठन इन समस्याओं के निदान के लिए कारगर योजनाओं के साथ कदम बढ़ा चुका है । समस्याओं के समाधान तक संगठन का संघर्ष जारी रहेगा।

इस  क्रम में विभिन्न स्तरों पर इन सभी मुद्दों को लेकर आम जनमानस से संपर्क स्थापित कर पहल को तेज किया जाएगा।

साथी सजग की कमी वाम आंदोलन को बहुत खलेगी-क्रांति

एआईएसएफ बेगूसराय के जिला अध्यक्ष सजग कुमार की विगत दिनों सड़क दुर्घटना में हुई मौत के बाद एआईएसएफ बीएनएमयू इकाई और एआईवाईएफ जिला परिषद मधेपुरा के संयुक्त तत्वावधान में संगठन के कार्यालय में शोक सभा आयोजित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।छात्र नेता हर्ष वर्धन सिंह राठौर की अध्यक्षता में आयोजित  शोक सभा में एआईवाईएफ नेता शम्भु क्रांति ने कहा कम समय में ही सजग ने वाम संगठनों के अलग अलग भूमिकाओं में अहम भूमिका निभाते हुए अपनी अलग पहचान बनाई। असमय उनका जाना वाम आंदोलन की बड़ी क्षति है। हर्ष वर्धन सिंह राठौर और छात्र नेता सौरभ कुमार ने कहा सड़क दुर्घटना में उनकी हुई मौत दुखद है उनकी कमी की भरपाई निकट भविष्य में सम्भव नहीं । इस विषम दौर में संगठन  उनके परिवार के साथ खड़ा है।

शोक सभा में मुस्कान,प्रीति प्रिया, गोलू, आशुतोष, गौतम, अतुल, काजल, विनोद, राहुल, मयंक आदि मौजूद रहे।


Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें