नालंदा:ट्रैक्टर ने मोटरसाइकिल सवार को कुचला, एक की मौत, एक जख्मी

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार: जिले में रफ्तार का कहर लगातार जारी है, सोमवार के दिन भी जिले में 5 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। मंगलवार की अहले सुबह पावापुरी थाना के चोरसुआ गांव के पास मंडी मिर्चा ले जा रहे 55 वर्षीय किसान सुरेश महतो को टेम्पो पर मिर्चा लोड करने के समय बालू लदा ट्रैक्टर ने रौंद डाला जिससे घटना स्थल ही उसकी मौत हो गयी जबकि उसका पुत्र घायल हो गया।

 प्राप्त समाचार के अनुसार चोरसुआ निवासी 55 वर्षीय सुरेश महतो अपने पिता का इकलौता बेटा था । वह अपनी पत्नी संगीता देवी और पुत्र धर्मपाल कुमार के साथ अहले सुबह खेत से मिर्चा तोड़कर बिहार शरीफ मंडी में बेचने के लिए एनएच 20 पर गांव के सामने रोज की तरह टेम्पो पर मिर्चा लोड कर रहा था, इसी दौरान पावापुरी की ओर से तेज गति से बालू लोड कर बिहारशरीफ जा रही ट्रैक्टर ने रौंद डाला और बोरा सहित 100 मीटर की दूरी तक घसीट लिया, जिससे सुरेश महतो की मौत घटना स्थल पर ही हो गयी और पुत्र धर्मपाल कुमार घायल हो गया जिसे विम्स अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया।

advertisement

इधर घटना के बाद सड़क को जाम कर दिया गया। घटना की सूचना पा कर पावापुरी ओपी प्रभारी चंचल कुमार दल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए। इधर पीड़ित परिवार मुआवजे की मांग कर रहे थे और सरकार से जल्द सड़क फोर लेन बनाने एवं बालू गिट्टी ट्रैक्टर पर नकेल कसने की मांग कर रहे थे। जाम के दौरान गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई और यात्रियों को काफी संकट का सामना करना पड़ा। प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद जाम को समाप्त कराया गया और आवाजाही शुरू की गयी ।

बता दें कि इस घटना से परिजन का रोरोकर बुरा हाल था, वहीं पूरे गांव में मातम छाया था । इस घटना की खबर मिलते ही बीडीओ धर्मवीर कुमार,सीओ चंद्रशेखर कुमार भी मौके पर पहुंच गए और पारिवारिक लाभ के तहत मृतक की पत्नी को 20 हजार का चेक दिए। साथ ही मुखिया चंदन कुमार द्वारा कबीर अंत्येष्टि के लिए 3 हजार रुपया भी दिया गया । इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल भेज दिया गया।

इधर दूसरी घटना इसी थाना क्षेत्र के चोरसुआ के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 20 पर एक हाईवे ने ट्रैक्टर में  टक्कर मार दी जिससे चालक जख्मी हो गया। टक्कर इतना जबरदस्त था कि ट्रैक्टर के परखच्चे उड़ गए। इस घटना के कारण सड़क पर गाड़ियों के आवागमन पर पूरी तरह प्रभाव पड़ा और एक बार फिर यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ी। स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचकर दुर्घटनाग्रस्त बिखरे ट्रैक्टर को बीच सड़क से केरेन के माध्यम से हटाया गया तब जाकर  यातायात को चालू हुआ और यात्रियों ने राहत की सांस ली।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें