मधेपुरा : आलमनगर से एक लोडेड देशी कट्टा और एक कारतूस के साथ दो अपराधी गिरफ्तार

Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिले में अपराध नियंत्रण को लेकर पुलिस प्रशासन द्वारा शक्ति से वाहन चेकिंग किया जा रहा है. इस दौरान संदिग्ध लोगों से कड़ी पूछताछ भी की जा रही है. वाहन चेकिंग के दौरान संदिग्ध लोगों के वाहनों के कागजातों एवं हेलमेट की जांच के साथ-साथ उनसे आवागमन के कारण का कड़ाई से पूछताछ किया जा रहा है. इसी क्रम में गुरुवार को उदाकिशनगंज अनुमंडल क्षेत्र अंतर्गत आलमनगर थाना में पुलिस प्रशासन को एक उपलब्धि हासिल हुई है. जिसमें दो अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है. साथ ही इन दोनों अपराधियों के पास से एक देसी कट्टा एक जिंदा गोली एवं एक मोटरसाइकिल बरामद किया गया है. इस आशय की जानकारी शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने दी.

दो अपराधी से एक लोडेड देशी कट्टा बरामद : पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि जिले के सभी थानाध्यक्षों को शक्ति से वाहन चेकिंग का निर्देश दिया गया है. साथ ही दोनों अनुमंडल के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को भी वाहन जांच में किसी तरह की कोताही ना हो एवं अपराधी सामने से बचकर ना निकल पाए इसके लिए सभी थानों के कार्यों पर नजर बनाए रखने के लिए निर्देश दिया गया है. उन्होंने बताया कि गुरुवार को आलमनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत वरीय पदाधिकारी के निर्देशानुसार आलमनगर थाना की पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस कर्मी के द्वारा लदमा नहर स्थित कारू स्थान के पास वाहन चेकिंग किया जा रहा था. वाहन चेकिंग के क्रम में देर रात्रि लगभग 10:15 बजे एक मोटरसाइकिल पर सवार दो व्यक्ति को रोककर चेक किया गया. मोटरसाइकिल पर पीछे बैठा व्यक्ति के पास एक लोडेड देशी कट्टा बरामद किया गया. जिसमें एक जिंदा गोली लोड था.

खबर से संबंधित वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें :

खगड़िया जिला के रहने वाले हैं दोनों अपराधी : पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि बाइक सवार खगड़िया जिला के बेलदौर स्थित कुर्बन वार्ड नंबर पांच निवासी विजेंद्र सिंह के पुत्र अरविंद कुमार एवं सुमन सिंह के पुत्र नीतीश कुमार का घर आलमनगर के बॉर्डर पर होने के कारण यह लोग आलमनगर थाना क्षेत्र में घुसकर लूट की घटनाओं को अंजाम देते थे. घटना को अंजाम देकर बड़ी ही आसानी से वापस अपने घर चले जाते थे. दोनों की गिरफ्तारी के बाद दोनों के गांव एवं आसपास के इलाकों से भी आपराधिक इतिहास को लेकर पूछताछ की जा रही है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार दोनों अपराधियों से हथियार कहां से लाए और किस घटना को अंजाम देने जा रहे थे. इसकी पूछताछ की जा रही है. थाने की सतत निगरानी के कारण एक घटना को होने से पुलिस प्रशासन ने रोका है.

आर्म्स एक्ट के तहत दर्ज किया गया मामला : पुलिस अधीक्षक ने बताया कि  दोनों व्यक्ति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. साथ ही दोनों अपराधी के विरुद्ध आलमनगर थाना में आर्म्स एक्ट के अंतर्गत कांड अंकित कर अनुसंधान प्रारंभ कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि इस वाहन चेकिंग अभियान में आलमनगर थानाध्यक्ष पुअनि उदय कुमार, आलमनगर थाना के पुसअनि उपेंद्र कुमार राम, गृह रक्षक उमेश पंडित, वासुदेव पंडित, छतीश राम शामिल थे. प्रेस वार्ता के दौरान उदाकिशुनगंज अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सतीश कुमार मौजूद थे.


Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें