मधेपुरा : पुलिस ने किया मिनी गन फैक्ट्री का पर्दाफाश, दो की गिरफ़्तारी, हथियार के साथ भारी मात्रा में उपकरण बरामद

Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : शनिवार की रात मधेपुरा पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। छापेमारी के दौरान चौसा थाना अंतर्गत पैना गांव में चौसा पुलिस ने मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन किया है।  पुलिस को मिनी गन फैक्ट्री को लेकर गुप्त सूचना मिली थी, जिसके सत्यापन के लिए चौसा थानाध्यक्ष एवं उनकी टीम लगातार कार्य कर रही थी, जगह-जगह छापेमारी की गई. जिसके बाद शनिवार देर रात इस कार्य में सफलता मिली। चौसा थाना अंतर्गत पैना गांव में एक आदमी के घर में मिनी गन फैक्ट्री पाई गई है, जिसमें दो अपराधियों को गिरफ्तार भी किया गया है, साथी इस मिनी गन फैक्ट्री से छापेमारी के दौरान मैगजीन समेत एक देसी निर्मित पिस्टल, एक अर्ध निर्मित देसी पिस्टल, दो पिस्टल का मैगजीन, एक अर्ध निर्मित मैगजीन, एक देसी कट्टा के अलावा हथियार बनाने में जिस आरा-छेनी एवं अन्य उपकरणों की जरूरत पड़ती है, वह भी भारी मात्रा में बरामद किया गया है। मामले की जानकारी रविवार को प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने दी।

एक महीने से कर रहे थे हथियार बनाने का कार्य : पुलिस अधीक्षक ने बताया कि छापेमारी के दौरान गिरफ्तार दोनों अपराधियों ने अपना अपराध स्वीकार किया है, साथ ही दोनों ने पूछताछ के दौरान कई अहम बातें सामने आई हैं, दोनों ने बताया कि वे लोग करीब एक महीने से यहां पर हथियार बने बनाने का काम कर रहे हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभी भी लगातार दोनों अपराधियों से पूछताछ की जा रही है और पूछताछ से मिली जानकारी के अनुसार एक घर पर छापेमारी भी की गई है।

वांछित एवं सक्रिय अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दिए गए हैं निर्देश : मामले की पूरी जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सभी वरीय पदाधिकारी द्वारा सभी थानाध्यक्षों एवं ओपी प्रभारियों को अपने-अपने थाना एवं ओपी क्षेत्रों में सघन वाहन चेकिंग, शराब की बरामदगी, शराब माफियाओं की गिरफ्तारी, अवैध हथियार की बरामदगी, वांछित एवं सक्रिय अभियुक्तों की गिरफ्तारी, असामाजिक तत्वों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई करने का सख्त निर्देश दिया गया है। इसी कड़ी में वरीय पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में गुप्त सूचना के आधार पर चौसा थाना के पुलिस पदाधिकारी सअनि प्रदीप कुमार, सअनि आलोक कुमार अमल, सअनि हब्बीबुल्ला अंसारी तथा महिला-पुरूष सशस्त्र बल के द्वारा शनिवार की रात चौसा प्रखंड के पैना गांव वार्ड नंबर 14 निवासी समसुल के पुत्र नकीर के घर पर विधिवत छापेमारी की गई, छापेमारी दल को देख कर दो अभियुक्त घर की चाहरदिवारी फांद कर भागने में सफल हो गये। छापेमारी दल द्वारा अभियुक्त नकीर के घर की विधिवत तलाशी ली गई, तलाशी के क्रम में अभियुक्त नकीर एवं पुरैनी थाना अंतर्गत सपरदह वार्ड नंबर आठ निवासी अली के पुत्र गुफरान को एक कमरे से अवैध हथियार तथा हथियार बनाने वाले उपकरणों के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

भारी मात्रा में हथियार बनाने वाला उपकरण किया गया बरामद : पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभियुक्त नकीर एवं गुफरान की गिरफ्तारी के साथ कमरे से एक मैगजीन सहित देसी निर्मित पिस्टल, दो पिस्टल का मैगजीन, एक अर्ध निर्मित मैगजीन, एक अर्ध निर्मित देसी पिस्टल, एक देसी कट्टा के साथ हथियार बनाने के उपकरण में 13 छोटे-बड़े भिन्न-भिन्न प्रकार की रेती, एक लोहा काटने की आरी, एक गुणा काटने वाला छोटा डाई, एक छोटा हाथ बेस, दो छोटा हथौड़ी, एक पिलास, दो छोटा पेचकस, तीन छोटा छेनी, एक छोटा सूमो, तीन अर्द्ध निर्मित टाइगर एक छेनी पिजाने वाला पत्थर, तीनकोनवा छोटा स्केल, पिस्टल का स्पिंग, एक छोटा डाई बोर्ड, एक छेदा करने वाला ड्रिल मशीन व उसके साथ 10 पीस छोटा-बड़ा पिन, पांच पीस छोटा-छोटा सेरेस पत्ता, मैगजीन बनाने वाला लोहा का चदरा एवं एक मोबाइल बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार दोनों अभियुक्तों से पूछताछ में और भी कई जानकारियां मिली है, जो अनुसंधान का विषय है। सारे बिंदुओं पर अनुसंधान किया जायेगा, जिसके बाद मामले संलिप्त सभी अपराधी केविरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

 एसडीपीओ के नेतृत्व में लगातार की जा रही है छापेमारी : आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि विधानसभा चुनाव को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह तैयार है, चुनाव को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है, उन्होंने बताया कि उनके निर्देश के अनुसार दोनों अनुमंडल के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के नेतृत्व में सभी थानों की पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है, साथ ही सभी को निर्देश दिया गया है कि जो भी अपराधी हैं, उसकी गिरफ्तारी कर जेल भेजा जाय। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मधेपुरा पुलिस को चार पारामिलिट्री फोर्स की टीम दी गई है। जिसे मधेपुरा के चारों विधानसभा में भेज दिया गया है। रविवार को जिले में पारामिलिट्री फोर्स का पहला दिन था साथ ही एसडीपीओ के नेतृत्व में थानाध्यक्ष के साथ पारामिलिट्री फोर्स का फ्लैग मार्च निकाला गया है। जिले में जो भी संवेदनशील इलाका है तथा भीड़भाड़ वाले इलाके में पारामिलिट्री फोर्स के द्वारा फ्लैग मार्च निकाला जायेगा।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें