नालंदा : रास्ते की मांग को लेकर समाहरणालय के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले के चंडी प्रखंड स्थित गोपी बीघा गांव के ग्रामीणों ने रास्ते की मांग को लेकर जिला समाहरणालय के मुख्य द्वारा पर प्रदर्शन किया। इससे पहले प्रदार्शनकारियों ने शहर के अस्पताल चौराहा स्थित श्रम कल्याण केंद्र के मैदान में इकट्ठा होकर एक मार्च निकाला जो रांची रोड, इतवारी बाजार काजी मोहल्ला होते हुए समाहरणालय पर प्रदर्शन किया।

चण्डी थाना क्षेत्र के गोपी विगहा रविदास टोला के ग्रामीणों ने कहा कि आजादी के 74 वर्षों के बाद भी सरकार हमलोगों को रास्ता का समुचित व्यवस्था नहीं कर सकी है जिस रास्ते से हमलोग लगभग 100 वर्षों से आवागमन कर रहे थे, वह रास्ता असमाजिक तत्वों ने बंद कर दिया है, जिसके कारण हमलोगों को गांव से निकलने के लिए कोई रास्ता नहीं है, न साईकिल, न जानवर निकल सकता है, इसलिए हमलोग काफी परेशान हैं। उन्होंने कहा कि हमारी जिला प्रशासन से मांग है कि रविदास टोला से निकलने के लिए रास्ते का प्रबंध किया जाए, सात निश्चय योजना के तहत या सरकार के किसी भी मद से गोपी बीघा रविदास टोला में हर घर नल जल एवं पक्की गली नली का निर्माण कराने का प्रबंध किया जाय।

अपनी मांगों को लेकर करीब 1 घंटे तक ग्रामीणों ने समाहरणालय का घेराव किया वहीं जिलाधिकारी  के द्वारा आश्वासन मिलने के बाद सभी ग्रामीण जनता अपने गांव वापस लौट गए।

मौके पर अनंतु रविदास, रामजतन रविदास,सुधीर रविदास, विनय दास,सुन्दर दास,सिता देवी, किरण देवी, कान्ति देवी, करुणा देवी,रीता देवी,प्रविला देवी, अखिलेश कुमार, धर्मेंद्र कुमार, गोरेलाल कुमार, रामपड़ी देवी, ओमप्रकाश रविदास, सिताराम दास,ललन दास,मुकेश कुमार, कौशलेंद्र कुमार,आशीष कुमार, रामाधीन रविदास एवं सैकड़ों ग्रामीण जनता मौजूद थे।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें