सावधान : साइबर अपराधियों का अपग्रेड वर्जन – प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना के नामपर गरीब किसानो को चूना लगाने की कोशिश

Spread the news

वसीम अख्तर
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : साईबर अपराधियों द्वारा ठगी के अबतक तरह तरह के हथकंडे अपनाने के बाद अब नया हथियार प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना की राशि के नाम पर गरीब किसान को बनाया है। लोगों के बैंक खाते से रूपये उड़ाने के लिए नित नये-नये नुस्खे अजमाते साइबर ठग इन दिनों किसान के खाते में आनेवाले प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना के नामपर लोगो को झांसे में लेने लगे हैं।

शुक्रवार को ऐसे एक मामला जिला के पुरैनी प्रखण्ड में देखने को मिला। पुरैनी प्रखंड के गणेशपुर गांव के दो लोगो को साईबर ठग द्वारा काल कर उनसे कहा गया कि आपका नाम प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना में शामिल है, आपने बैंक खाता और एटीएम का डिटेल्स नही दिया है इसलिए आपका पैसा नही गया है ।

इस प्रकार आता है साईबर ठग का काल : 8002527433 नम्बर से पुरैनी के गणेशपुर पंचायत के गणेशपुर गोठ निवासी रमेश झा एवं धनंजय झा के नम्बर पर काल आया और कहा गया की मेरा नाम राजीव शर्मा है, मैं प्रखंड कार्यालय पुरैनी से बोल रहा हूं, आपका प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना में नाम शामिल है। आपका पैसा इसलिए रूका हुआ है क्योंकि आपने अपना एटीएम नम्बर नही दिया है। यहां तक की फ्रोड के द्वारा पंचायत के मुखिया और किसान सलाहकार सहित दस के करीब किसानों के नाम भी बताये गये। हालांकि उक्त दोनो व्यक्ति शिक्षित है तो दोनो एटीएम नही होने की बात कहकर ठगी का शिकार होने से बच गए, और इसकी सूचना स्थानीय पत्रकार सहित पंचायत के मुखिया और विभाग को दी गयी ।

क्या कहते हैं प्रखंड कृषि पदाधिकारी : इस बाबत प्रखंड कृषि पदाधिकारी सुभाष प्रसाद सिंह ने बताया कि ऐसा कोई व्यक्ति प्रखंड कृषि कार्यालय में कार्यरत नही है, अगर, कोई व्यक्ति पेमेंट लेने के लिए इस तरह से काल और मैसेज भेजता है तो वह धोखाधड़ी कर रहा है। किसी तरह का एटीएम का नम्बर देने की जरूरत नही है।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें