आयुष्मान भारत- अब पंचायतों में बनेगा गोल्डन कार्ड

Spread the news

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : कोरोना के कारण बंद किए गए आयुष्मान भारत प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्ड का कार्य फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है, इसे जल्द से जल्द शुरू कराने के लिए आवश्यक तैयारी भी शुरू कर दी गई है। कार्य में तेजी लाने एवं जल्द से जल्द अधिक से अधिक लोगों का कार्ड बनाने को लेकर पंचायत स्तर पर कार्ड बनाया जाएगा, ताकि सभी आसानी के साथ अपना कार्ड बनवा सके।  इसको लेकर स्वास्थ्य सुरक्षा समिति के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने पत्र जारी कर जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन को आवश्यक निर्देश दिया है, और हर हाल में तेजी के साथ कार्ड बनाने के लिए आवश्यक पहल करने का दिशा निर्देश भी जारी किया है।

 कार्यपालक सहायक बनाएंगे गोल्डन : कार्ड गोल्डन कार्ड बनाने के कार्य में तेजी लाने को लेकर पंचायत स्तर पर तैनात कार्यपालक सहायक को कार्ड बनाने की जिम्मेदारी दी जाएगी जो अपने अपने क्षेत्र के लोगों का सुविधाजनक तरीके से गोल्डन कार्ड बनाएंगे । इस बाबत पर सिविल सर्जन डॉ सुभाष चंद्र श्रीवास्तव के द्वारा बताया गया कि जिले के सभी जगह पर गोल्डन कार्ड बनाने का कार्य जल्द शुरू किया जाएगा इसके लिए आवश्यक तैयारी की जा रही है।

 जनप्रतिनिधि भी करेंगे सहयोग : गोल्डन कार्ड बनवाने से कोई वंचित नहीं रहे इसके लिए पंचायत स्तरीय प्रतिनिधि, मुखिया, वार्ड सदस्य समेत अन्य जनप्रतिनिधि भी सहयोग करेंगे, साथ ही कार्ड बनाने को लेकर लोगों को जागरूक करेंगे। स्वास्थ्य विभाग से जुड़ी आशा कार्यकर्ता भी अपने क्षेत्र में हर घर जाकर लोगों को जागरूक करेगी और कार्ड बनाने के लिए लोगों को प्रेरित करेंगी ।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें