घटिया निर्माण : पुल का एप्रोच पथ ध्वस्त हो जाने से आवागमन बाधित

728x90
Spread the news

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : प्रखंड के गंगापुर के कोशी नदी के पुल से सटे एप्रोच सड़क में रेेनकट के कारण पुल के दोनो तरफ से बनी एप्रोच सड़क में दरार हो चुका है और एप्रोच के बीच बना पुलिया भी धवस्त हो गया है। जिसके कारण आवागमन लगभग ठप हो गया है। लोग जान जोखिम में डालकर ध्वस्त हो चुके पुलिया पर चलने को मजबूर हैं, जिससे कभी भी बड़ा हादसा या दुर्घटना हो सकती है। इसको लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।

ग्रामीणों की माने तो करोड़ों की लागत से बने पुल को सड़क से जोड़ने के लिए लाखों की लागत से बनाये एप्रोच और एप्रोच सड़क के बीच बने पुलिया का ध्वस्त होना ठेकेदार की बड़ी लापरवाही है। ग्रामीणों ने बताया कि एक हमलोगों ने सड़क निर्माण के समय भी ठेकेदार पर आरोप लगया था कि सड़क और पुलिया बनाने में मानक के अनुरुप मेटेरियल नहीं दिया जा रहा है और ना ही हाइट का खास ख्याल रखा जा रहा है। जिससे बरसात के दिनों में संपर्क बाधित हो सकता है। लेकिन ठेकेदार के मुंशी ने ग्रामीणों को यह कह कर गुमराह कर दिया कि उसे पांच वर्षों तक सड़क के मेन्टेनेन्स की भी जिम्मेदारी है। इसलिए  लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है।

advertisement

मालूम हो कि गांव से एनएच और एसएच को जोड़ने वाला यही एक मार्ग है, जो ग्रामीणों को शहर से जोड़ने का एकमात्र सहारा है। इस एप्रोच और एप्रोच के बीच बने पुलिया के टूट जाने से ग्रामीणों का शहर से सम्पर्क लगभग खत्म हो चुका है। जिसके कारण नदी के बीच करोड़ों की लागत से बने पुल का कोई औचित्य नहीं रह गया है। यह मार्ग आसपास के करीब 10 पंचायत की बड़ी आबादी को जिला मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रों को जोड़ने का एकमात्र शॉर्टकट रास्ता है।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें