मधेपुरा : पूर्व केन्द्रीय मंत्री रघुवंश बाबू के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त

Spread the news

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन की सूचना मिलते ही लोगों में मायूसी छा गयी। इस घटना के बाद आम जनता मर्माहत एवं दुखी हैं।

निधन की सूचना मिलते ही अपने शोक संदेश में विधि मंत्री नरेंद्र नारायण यादव ने कहा कि रघुवंश बाबू समाजवाद के पुरोधा थे। उनका जाना हम लोगों के लिए व्यक्तिगत क्षति है । उनका जीवन समाजवाद का जीता जागता उदाहरण था। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्णिया के प्रभारी कैसर कुमार सिंह ने कहा उनका जाना बिहार के लिए त्रासदी से कम नहीं। पूर्व मंत्री डॉ रेणू कुमारी कुशवाहा ने कहा कि समाजवाद का सिपाही का जाना दुखद है। पूर्व प्रमुख जयप्रकाश सिंह ने कहा कि रघुवंश बाबू को उदाकिशनगंज की मिट्टी से बहुत लगाव था । कृषि मेला बलिया में उनका आना यही साबित करता था। इंटक जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने कहा कि समाजवाद का विशाल बट बृक्ष धराशाई हो गया। पूर्व प्राचार्य रामचंद्र प्रसाद सिंह ने उन्हें गरीबों का मसीहा बताया।

शोक व्यक्त करने वालों में आलमनगर राज्य परिवार के प्रभात कुमार सिंह गृजेश्वर प्रसाद सिंह उर्फ रतन बाबू, अखिलेश प्रसाद सिंह नुनू बाबू, अमृत कुमार, हाजी अब्दुल सत्तार, प्राचार्य रविंद्र कुमार रमन, डॉ डीके सिन्हा, डॉक्टर संतोष कुमार संत, डॉ मिथिलेश कुमार, डॉक्टर पूजा भारती, डॉक्टर ए के मिश्रा, डॉक्टर संदीप कुमार सोनू, चितरंजन कुमार सिंह, विजय जैन, अधिवक्ता मुनिद्र कुमार सिन्हा, विवेकानंद सिंह, सुबोध सिंह, प्रमोद यादव पप्पू, पुरुषोत्तम अग्रवाल मिथिलेश कुमार यादव, प्रीतम कुमार मंडल, विष्णु देव सिंह, ठाकुर माधव सिंह तोमर, प्रकाश झा आदि शामिल थे।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें