नालंदा : डीएम की अध्यक्षता में विभिन्न सड़क परियोजनाओं से संबंधित भू-अर्जन की समीक्षा बैठक का आयोजन

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने आज विभिन्न सड़क परियोजनाओं में भू-अर्जन से संबंधित लंबित मामलों की समीक्षा की। एनएच 30A में सरथा एवं चेरों में भू-अर्जन से संबंधित लंबित मामलों की प्रक्रिया को यथाशीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। जिन रैयतों का मुआवजा भुगतान लंबित है, उन्हें तुरंत नियमानुसार भुगतान सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया।

इसी प्रकार एन एच 82 के बिहारशरीफ बाईपास भाग में भी दो जगहों पर कुछ रैयतों का मुआवजा भुगतान स्थानीय कारणों से लंबित है। इन सभी रैयतों के मामलों का त्वरित निराकरण सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया। बख्तियारपुर-रजौली एनएच 20 (पुराना एनएच 31) के चौड़ीकरण हेतु भू अर्जन की पूर्व की प्रक्रिया को अविलंब पूरा करने का निर्देश दिया गया। एनएचएआई के परियोजना निदेशक द्वारा बताया गया कि गिरियक, भागन बीघा, चेरों आदि में तत्काल इस एन एच की मरम्मती एवं फ्लैंक को समतल करने हेतु आगामी 2 सप्ताह के अंदर कार्रवाई की जाएगी।

पथ निर्माण विभाग, पथ प्रमंडल बिहार शरीफ द्वारा बनाए जा रहे  बिहारशरीफ बाईपास के उत्तरी भाग में रेलवे क्रॉसिंग के पास सतत लीज के तहत अतिरिक्त भूमि लेकर गोल चक्कर का निर्माण कर क्रॉसिंग बनाया जाएगा। इसके लिए अंचलाधिकारी रहुई को आवश्यक जमीन से संबंधित आगे की कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

बैठक में जिला भू अर्जन पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी बिहार शरीफ, भूमि सुधार उप समाहर्ता बिहार शरीफ, परियोजना निदेशक एनएचएआई, कार्यपालक अभियंता राष्ट्रीय उच्च पथ बिहार शरीफ प्रमंडल, कार्यपालक अभियंता पथ प्रमंडल बिहार शरीफ, एनएच 82 के प्रोजेक्ट अभियंता सहित अन्य अभियंता तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिहार शरीफ अनुमंडल के सभी अंचलाधिकारी जुड़े थे।


Spread the news