सुपौल : होम क्वारंटाइन करने से लोगों में गुस्सा, सड़क जाम   

728x90
Spread the news

छातापुर से रियाज खान की रिपोर्ट :

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड अंतर्गत भीमपुर थाना क्षेत्र के जीवछपुर पंचायत स्थित बेलागंज में एक कोरोना संक्रमित मरीज को स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम क्वारंटाइन करने के बाद बुधवार को स्थानीय ग्रामीण का गुस्सा फूट पड़ा।

बुधवार की सुबह 9 बजे से आक्रोशित ग्रामीणों ने स्टेट हाइवे- 91 को बांस बल्ला से घेरकर जाम करते हुए जमकर बबाल काटा। आक्रोशित ग्रामीणों का कहना था कि अविलंब उक्त संक्रमित मरीज को गांव से हटा कर कहीं अन्य जगह अस्पताल में आइसोलेट करने की मांग पर अड़े हुए थे। सड़क जाम कर रहे आक्रोशित ग्रामीणों ने बताया कि मंगलवार को उक्त संक्रमित व्यक्ति कटिहार से आया था। जिसे स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मेडिकल जांच के बाद तत्काल उसे होम क्वारंटाइन कर दिया है। ग्रामीणों ने बताया कि घनी आबादी के कारण संक्रमण आसपास में फैलने का डर है।

बताया कि संक्रमित व्यक्ति शौच करने हेतु आसपास के क्षेत्रों में निकलते हैं जिस होकर गांव के अन्य लोगों का भी आना जाना होता है। सड़क जाम की सूचना मिलने पर भीमपुर थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि, छातापुर पीएचसी प्रभारी डॉ नवीन कुमार सिंह, स्वास्थ्य प्रबंधक नौमान अहमद, आरडीओ अजित कुमार सिंह स्थल पर पहुंचकर आक्रोशित लोगों को समझाने बुझाने का अथक प्रयाश किया।         आक्रोशित लोगो का कहना था कि जब तक संक्रमित मरीज को गांव से अलग शिफ्ट नहीं किया जाएगा, तब तक हमलोग जाम नहीं हटाएंगे। इधर, छातापुर पीएचसी प्रभारी नवीन कुमार व बीडीओ अजित कुमार ने लोगों को आश्वासन  दिया कि संक्रमित व्यक्ति को होम क्वारंटाइन  में रखा गया है। और समय समय पर उसका स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा देखभाल किया जाएगा। लेकिन इसके बावजूद लोग मानने के लिए तैयार नहीं हुए। आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा जाम नहीं हटाने पर जाम स्थल से आरडीओ व पीएचसी प्रभारी चले गए।

भीमपुर थाना अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि के लगातार समझाने के बाद लगभग 5 घण्टे बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम हटाया। इधर 5 घंटे तक एसएच 91 जाम रहने से सड़क के दोनों साइड वाहनों की लंबी कतार लगी हुई थी, और यात्रियों का काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा ।

इस बाबत पीएचसी प्रभारी डॉ सिंह ने बताया कि संक्रमित व्यक्ति का फिजिकल टेस्ट किया गया। जिसके बाद संक्रमित व्यक्ति को किसी प्रकार का लक्षण नहीं पाया गया है। जिसको देखते हुए फिलहाल उसे होम होम क्वारंटाइन में रखने का निर्देश दिया गया है।


Spread the news