मधेपुरा : 31 जुलाई तक जारी रहेगा लॉकडाउन, इमरजेंसी सर्विस सेवा छोड़ कर, परिवहन सेवा, शॉपिंग मॉल आदि  बन्द

728x90
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : कोरोना संक्रमण के बढ़ते स्थिति को लेकर राज्य सरकार द्वारा 31 जुलाई तक लॉकडाउन करने का निर्णय लिया गया है। यह लॉकडाउन 31 जुलाई तक जारी रहेगा, इस दौरान इमरजेंसी सर्विस सेवा छोड़ कर, परिवहन सेवा, शॉपिंग मॉल आदि को बन्द किया गया है।

मालूम हो कि केंद्र सरकार के द्वारा पहला 22 मार्च को जनता कर्फ्यू किया गया, उसके बाद 23 मार्च से राज्य सरकार एवं 24 मार्च से केंद्र सरकार के द्वारा लॉकडाउन किया गया। वहीं 15 अप्रैल को लॉकडाउन 2.0, तीन मई को लॉकडाउन 3.0 एवं 18 मई से लॉकडाउन 4.0 लागु की गई, जिसके बाद एक जून से अनलॉक 1.0 एवं जुलाई से अनलॉक 2.0 प्रभावी किया गया।

 कोरोना वायरस को लेकर प्रशासन पूरी तरह सजग है, जनता से भी जागरूक रहने की अपील की जा रही है। सड़क पर चहलकदमी करते नजर आये लोगों पर पुलिस प्रशासन सख्ती बरत रही है, सुबह से ही पुलिस बल पूरी मुस्तैदी के साथ शहर के मेन चौक चौराहे समेत गलियों में गस्ती में लगी रहती है, साथ ही सभी चौक चौराहों पर वाहन लेकर मटरगश्ती करने वालों पर भी पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए चालान भी काट रहे हैं। कोरोना वायरस से बचाव के लिए तथा संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, सदर अस्पताल प्रशासन तथा जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद है। जिले में जिला प्रशासन द्वारा दिये गये लॉकडाउन निर्देश का सख्ती से पालन किया जा रहा है।

जिले की स्थिति में सुधार के लिये जिला प्रशासन के निर्देश का करें पालन : जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला, पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, सदर अनुमंडल पदाधिकारी वृंदा लाल, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी वसी अहमद समेत सभी अधिकारी लोगों को लॉकडाउन के निर्देश का पालन कराने के लिये जुटे हैं। जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला ने जिले वासियों से अपील किया है कि अभी जो जिले की स्थिति है, उसकी सुधार के लिये सभी लोग जिला प्रशासन का साथ दें, जिला प्रशासन द्वारा दिये गये निर्देशों का अवश्य पालन करें, जिला प्रशासन के द्वारा जो निर्देश दिया गया है, सोशल डिस्टेंस बनाये रखने, मास्क का उपयोग करने, अपने घर एवं आस-पास को स्वच्छ रखने तथा जरूरी काम के लिये ही घर से बाहर निकले, उसका अवश्य पालन करें। जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला ने कहा कि इस आपदा की घड़ी में हम लोग एक साथ इकट्ठा खड़े हों, जिससे हम लोग इस विकट परिस्थिति से उभर कर बाहर आ सकें।

आने जाने का कारण सही नहीं है तो करें कार्यवाही : कोरोना वायरस को लेकर शहर में हुये लॉकडाउन में किसी तरह की चूक ना रह जाय, इसके लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। साथ ही सड़कों पर पुलिस प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षा बरतने, मास्क लगाने तथा सिर्फ जरूरी कामों के लिए सड़कों पर निकलने की सलाह दी जा रही है। सड़कों पर तैनात पुलिस बलों को निर्देश देते हुये अधिकारियों ने कहा कि लॉकडाउन एवं जिला प्रशासन द्वारा लागू किये गये निर्देशों का जो भी व्यक्ति पालन नहीं करते हैं, ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने में कोई कोताही ना बरतें। उन्होंने कहा कि सड़क पर बेवजह घूमने वाले एवं बिना मास्क लगाये घरों से निकलने वाले लोगों पर कड़ी कार्रवाई करें. अधिकारियों ने पुलिस बलों को साफ निर्देश दिया है कि चौक चौराहों सहित गली मोहल्लों में भी पुलिस बल के द्वारा गस्ती किया जाय, अगर कोई भी व्यक्ति लॉक डाउन के निर्देशों का उल्लंघन करते पाये जाते हैं तो उन पर कार्रवाई की जाय।

लॉकडाउन के नियमों एवं का पालन कराने में नहीं बरती जायेगी कोई कोताही   :  लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिये जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला एवं पुलिस अधीक्षक संजय कुमार के द्वारा संयुक्त आदेश जारी कर लोगों को नियमों का पालन करने का निर्देश दिया था, साथ ही लोगों को घरों से बाहर निकलने पर एवं भीड़-भाड़ इलाके में रहने पर मास्क का उपयोग अवश्य करने का निर्देश दिया था। जिला प्रशासन ने बाजारों में सभी दुकानों को खोलने से लेकर बंद करने तक, समय सीमा तय कर दिया था। इसके बावजूद सड़कों पर कई लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं एवं कई दुकानदार धड़ल्ले से जिला प्रशासन के नियमों का उल्लंघन कर दुकान चला रहे हैं। इसे लेकर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है. मंगलवार को जिला मुख्यालय के मुख्य बाजार सहित सभी सड़कों एवं गली मोहल्लों में कमांडो हेड विपिन कुमार के नेतृत्व में कमांडो टीम समेत अन्य पुलिस बलों ने गश्ती कर, खुले दुकान के दुकानदारों को कड़ी चेतावनी के साथ दुकानें बंद करवाई। पुलिस प्रशासन ने दुकानदारों को साफ कर दिया है कि लॉकडाउन के नियमों एवं जिला प्रशासन के निर्देशों का पालन कराने में कोई कोताही नहीं बरती जायेगी।

मास्क का उपयोग जरूर करें एवं करें सोशल डिस्टेंस का पालन : सोमवार के रात्रि भी सदर अस्पताल द्वारा 81 लोगों का सैंपल जांच के लिये भेजा गया था, जिसमें तीन लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई, सभी संक्रमित व्यक्ति जिला मुख्यालय के हीं निवासी है, सभी का इलाज जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिलक कॉलेज एवं अस्पताल चल रहा है। मंगलवार को 30 लोगों की थर्मल स्कैनिंग भी की गयी है. सदर अस्पताल प्रशासन, जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिलक कॉलेज एवं अस्पताल प्रशासन द्वारा लगातार लोगों के सैंपल लिये जा रहे है एवं जांच किये जा रहे है। 21 मार्च से 14 जुलाई तक सदर अस्पताल द्वारा छह हजार पांच सौ 90 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी. । सदर अस्पताल के चिकित्सक डा पवन कुमार ने बताया कि जिस व्यक्ति में बुखार, सुखी खांसी एवं सांस में तकलीफ जैसी लक्षण दिख रही है, ऐसे मरीजो की सबसे पहले थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है, स्क्रीनिंग के दौरान अगर कोई व्यक्ति संदिग्ध पाया जाता है तो उसे सदर अस्पताल के आईशोलेसन वार्ड रखा जाता है एवं सैंपल जांच के लिये मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है। उन्होंने बताया कि मास्क का उपयोग जरूर करें एवं सोशल डिस्टेंस का पालन करें, बेहद जरूरी होने पर ही घर से निकले।


Spread the news