मधेपुरा : लॉकडाउन के पहले दिन कहीं सख्त तो कहीं नरम दिखे अधिकारी, कई दुकानदारों से वसूला गया जुर्माना

728x90
Spread the news

सख्त दिखाई दिये अधिकारी, दुकानदारों से वसूला जुर्माना ⇔ नियमों के पालन कराने में नहीं बरती जाय किसी तरह की कोताही ⇔ हर परिस्थिति में मास्क पहनना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य  ⇔ सभी जगहों पर सख्त दिखे प्रभारी पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी 

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्ति की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है स्थिति की गंभीरता को देखते हुए जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला के द्वारा 16 जुलाई तक मधेपुरा को पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया है।  लॉकडाउन के पहले दिन शुक्रवार को शहर के कुछ चौक-चौराहों पर पुलिस प्रशासन की सख्ती का असर दिखा, वहीं कुछ चौक चौराहों पर पुलिस प्रशासन के द्वारा की जा रही ढिलाई एवं लोगों में पुलिस प्रशासन एवं कोरोना वायरस का भय नहीं होने के कारण चहल कदमी देखी गई। जिले में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ना जिले के लिये चिंताजनक है। बावजूद इसके लोग कोरोनावायरस के लेकर जागरूक नहीं हो रहै हैं। जिला प्रशासन समेत जिले के कई संस्थानों द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करने की कोशिश की जा रही है। यह बात लोगों को समझने की जरूरत है तथा लॉकडाउन के प्रति पुलिस प्रशासन को और सख्त होने की भी जरूरत है।

सख्त दिखाई दिये अधिकारी, दुकानदारों से वसूला जुर्माना : जिले में जिला प्रशासन द्वारा लॉकडाउन किये जाने के बाद फिर से शहर की सड़कों पर सन्नाटा छा गया है। जिला प्रशासन की ओर से शुक्रवार को लागू किये गये लॉकडाउन के दौरान पुलिस सख्त दिखाई दी, हालांकि सुबह के समय कई ऐसे दुकानदार, जिन्हें दुकान खोलने की इजाजत नहीं दी गई थी, उन्होंने भी दुकान खोला था, लेकिन धीरे-धीरे पुलिस प्रशासन एवं अधिकारी की सख्ती के बाद सारे दुकान बंद कर दिये गये, साथ कई दुकानदारों से जुर्माना भी वसूला गया है।

सुबह से ही कई वरीय अधिकारी समेत पुलिस प्रशासन शहर में गस्ती कर लोगों को लॉकडाउन के नियमों का पालन करने के लिए निर्देश दिया। लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए संदेश प्रसारित किये जा रहे थे, साथ ही लोगों को लॉकडाउन का पालन करने की गुजारिश की जा रही थी। पुलिस प्रशासन एवं अन्य अधिकारी द्वारा साफ चेतावनी दी गई कि नियमों के उल्लंघन करने वाले को बख्शा नहीं जायेगा। मालवाहक बस एंबुलेंस आवश्यक एवं आपातकालीन तथा सरकारी सेवाओं से संबंधित वाहनों के परिचालन की पूर्व की भांति अनुमति रहेगी. अन्य निजी वाहनों के साथ यात्रा कर रहे लोगों के पास यात्रा के औचित्य संबंधी साक्ष्य होनी चाहये।

नियमों के पालन कराने में नहीं बरती जाय किसी तरह की कोताही: जिले में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए जिलाधिकारी नवदीप शुक्ला एवं पुलिस अधीक्षक संजय कुमार के द्वारा सभी चौक चौराहों पर तैनात पुलिस पदाधिकारी एवं उपस्थित अन्य अधिकारियों को साफ निर्देश दिया है कि नियमों के पालन कराने में किसी तरह की कोताही नहीं बरती जाय, साथ ही अगर कोई नियमों का उल्लंघन करते देखा जाता है तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाय। नियमों का सख्ती से पालन कराने के लिए जिला मुख्यालय में 12 जगहों पर पुलिस बलों एवं अधिकारियों को तैनात किया गया है। लॉकडाउन की अवधि में सभी निजी, व्यवसायिक एवं वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे, आवश्यक वस्तुओं की दुकान खुली रहेंगी, आवश्यक वस्तुओं के दुकान की समय सीमा भी तय की गई है, जिसके अंतर्गत सब्जी एवं फलों की दुकान सुबह छह बजे से सुबह 10 बजे तक खुली रहेगी। वहीं खाद्यान्न, दूध एवं किराने की दुकान सुबह छह बजे से सुबह 10 बजे तक एवं शाम चार बजे से शाम के सात बजे तक खुली रहेगी, साथ ही इन सेवाओं के अतिरिक्त अन्य आवश्यक सेवाएं पूर्व की भांति सरकार के द्वारा जारी दिशा निर्देश के आलोक में जारी रहेगी।

सभी जगहों पर सख्त दिखे प्रभारी पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी : कॉलेज चौक पेट्रोल पंप के समीप प्रभारी पदाधिकारी कृषि अभियंत्रण के सहायक निदेशक मुरारी कुमार एवं पुलिस पदाधिकारी पुअनी मायारानी चक्रवर्ती, कॉलेज चौक गोलंबर के समीप प्रभारी पदाधिकारी मिट्टी जांच प्रयोगशाला के सहायक निदेशक केशव कुमार गुप्ता एवं पुलिस पदाधिकारी सअनी सुबोध कुमार रजक, मस्जिद चौक पर प्रभारी पदाधिकारी सर्व शिक्षा अभियान के कनीय अभियंता शादाब आलम एवं पुअनी अशोक कुमार सिंह, थाना चौक पर प्रभारी पदाधिकारी कृषि विभाग के सहायक अनुसंधान पदाधिकारी अशोक कुमार अमर एवं सअनी मनोज पासवान, सुभाष चौक पर प्रभारी पदाधिकारी अनुमंडल कार्यालय के कार्यपालक दंडाधिकारी सत्येंद्र कुमार सहाय एवं सअनी मोइम, पूर्णिया गोला चौक पर प्रभारी पदाधिकारी जिला गव्य पदाधिकारी उमेश प्रसाद एवं सअनी नवीन कुमार सिंह, कर्पूरी चौक पर प्रभारी पदाधिकारी जिला सांख्यिकी पदाधिकारी सच्चिदानंद झा एवं सअनी विनोद प्रसाद, स्टेशन चौक पर प्रभारी पदाधिकारी ग्रामीण कार्य प्रमंडल के सहायक अभियंता अरविंद कुमार एवं पुअनी चंदेश्वरी सिंह, पश्चिमी बाईपास रोड नये बस पड़ाव के समीप प्रभारी प्राधिकारी लोक स्वास्थ्य प्रमंडल के सहायक अभियंता कुमार आयुष एवं पुअनी चंद्र प्रकाश चंद्र, मिशन रोड बजरंगबली चौक के समीप प्रभारी पदाधिकारी मत्स्य प्रसार पर्यवेक्षक राजकिशोर झा एवं सअनी सत्येंद्र कुमार, जयपाल पट्टी चौक पर प्रभारी पदाधिकारी स्थानीय क्षेत्र अभियंत्रण संगठन के कनीय अभियंता सुरेश चौधरी एवं सअनी रंजीत कुमार एवं पुराने बस स्टैंड चौक पर प्रभारी पदाधिकारी शिक्षा विभाग के कार्यक्रम पदाधिकारी राशिद नवाज एवं सअनी अनिल कुमार पासवान को सशस्त्र बल, लाठी बल एवं चौकीदार के साथ नियुक्त किया गया है।

हर परिस्थिति में मास्क पहनना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य : सभी संबंधित दुकानदार एवं खरीदार को हर परिस्थिति में मास्क पहनना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा, यदि इस दौरान इसका उल्लंघन पाया जाता है तो संबंधित दुकानदार एवं संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की जायेगी। लॉक डाउन की अवधि में आवश्यक वस्तु एवं आवश्यक सेवाओं के लिए घरों से बाहर निकलने वाले लोगों को मास्क का प्रयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन अनिवार्य होगा,  ई-कॉमर्स सेवाएं जारी रहेंगी, अस्पताल, पैट्रोल पंप, एलपीजी वितरक एजेंसी को खोलने की अनुमति रहेगी, लॉकडाउन की अवधि के लिए सभी सरकारी, अर्द्ध सरकारी, स्वायत्त एवं आवश्यक सेवाओं से जुड़े कार्यालय खुले रहेंगे, लेकिन कार्यालयों में आम जनों का अनावश्यक प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा, कार्यालय के सभी कार्यरत कर्मी अपने-अपने कार्यस्थल पर मास्क लगाकर उपस्थित रहेंगे, बैंक डाकघर बीमा, एटीएम में सोशल डिस्टेंस एवं मास्क की अनिवार्य शर्त के साथ खुले रहेंगे, सभी प्रकार की सरकारी योजनाओं से संबंधित निर्माण कार्य कोविड-19 के अंतर्गत दिये गये दिशा-निर्देशों का अनुपालन करते हुये जारी रखेंगे।


Spread the news