मधेपुरा : मुरलीगंज गोशाला में दम तोड़ने की कगार पर गायें

Spread the news

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : मुरलीगंज शहर के वार्ड नं दो स्थित श्री गोपाल गौशाला में सभी गायों के कान में टैग लगाने से गायों के कानों में घाव की समस्या उत्पन्न हो गई है। लगभग दस गायों के कान घाव होने के कारण कटकर गिरने लगी है।

आलम यह है कि दर्जनों गायों के कानों में घाव की स्थिति दिन ब दिन गांभीर होती जा रही है। अगर समय रहते ध्यान नहीं दिया गया तो स्थिति भयावह हो सकती है। यही नहीं दो तीन गायों के कान में गहरे घाव होने के कारण आधे से अधिक कान कटकर गिर गए हैं। जिस वजह से गायों में संक्रमण का खतरा बना हुआ है।

व्यवस्थापक अशोक साह ने बताया कि गौशाला में कुल 95 दुधारू गायों एवं बछड़ों है। लगभग एक माह पूर्व पशु पालन विभाग के द्वारा सभी गायों के कान में टैग लगाया गया था। जिसके उपरांत दवाई भी दी गई थी। लेकिन कुछ दिनों से गायों के कान में घाव और कटकर गिरने लगी है। हलांकि प्रखंड स्तरीय पशु चिकित्सक के द्वारा उपचार किया जा रहा है। लेकिन उनके उपचार से सुधार नहीं दिख रहा है।

उन्होंने बताया कि इसकी जानकारी जिला पशु पालन पदाधिकारी को दी गई है। वहीं गौशाला के सचिव इन्दरचंद्र बोथरा ने कहा कि गायों को टैग लगाने से खतरा उत्पन्न हो गया है। गायों के कानों की स्थिति गंभीर होती जा रही है। वरीय पदाधिकारियों को भी सूचना दी गई है।

इस बावत जिला पशु पालन पदाधिकारी वीरेन्द्र कुमार राय ने कहा कि जानकारी मिली है। एक दो दिन में मेडिकल टीम को भेजा जाएगा।


Spread the news
advertise