दरभंगा : पृथ्वी दिवस को दरभंगा जिला में 7,70,000 नया पौधा लगाया जायेगा

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : आगामी 09 अगस्त 2020 को पृथ्वी दिवस के मौके पर जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत दरभंगा जिला में 7,70,000 नया पौधा लगाने हेतु संबंधित एजेंसी द्वारा चयनित स्थलों के अक्षांश एवं देशांतर के साथ विस्तृत सूची उपलब्ध करा दिया गया हैं। जिलाधिकारी, दरभंगा डॉ. त्यागराजन एस.एम. ने उक्त सभी एजेंसी को पौधारोपण हेतु चयनित स्थलों की दुबारा जांच कर यह सुनिश्चित हो लेने को कहा है कि वह स्थल हर दृष्टिकोण से उपयुक्त है।

 उन्होंने कहा है कि 09 अगस्त 2020 को पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य में बिहार राज्य में 2.51 करोड़ पौधारोपण के लक्ष्य पर कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा हैं कि सभ्यता एवं विकास के दौर में पेड़ों की अंधाधुध कटाई किये जाने के चलते जलवायु में निरंतर परिवर्त्तन देखा जा रहा है। जलवायु परिवर्त्तन के दुष्प्रभावों को नियंत्रित करने के उद्देश्य से राज्य में एक साथ बहुत बड़ी  मात्रा में पौधारोपण करने का विशाल लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह अत्यंत  महत्वपूर्ण कार्य है। इस कार्य की तैयारी के लिये अब मात्र दो माह समय रह गया है। इस अवधि में पौधारोपण हेतु चयनित स्थलों के अनुरूप पौधों (सैपलिंग) की उपलब्धता सुनिश्चित की जानी है।

समीक्षा के क्रम में बताया गया कि दरभंगा जिला क्षेत्र में 7,70,000 नए पौधरोपण के लक्ष्य के तहत मिथिला वन प्रमण्डल, दरभंगा द्वारा 2,40,100 पौधा एवं डी.आर.डी.ए., दरभंगा द्वारा मनरेगा योजना के तहत 2,29,387 पौधा लगाया जायेगा। ग्रामीण विकास विभाग की एजेंसी जीविका संगठन द्वारा 65,686 पौधा, जिला शिक्षा कार्यालय के द्वारा 47,837 पौधा, जिला मत्स्य कार्यालय द्वारा 18,122 पौधा, जिला कृषि कार्यालय द्वारा 9092 पौधा, बाल विकास परियोजना कार्यालय द्वारा 2388, जिला पशुपालन कार्यालय द्वारा 1400 एवं जिला स्वास्थ्य कार्यालय द्वारा 978 पौधारोपण किया जायेगा।

इसके साथ ही लाइन डिपार्टमेंट द्वारा भी बड़ी संख्या में पौधारोपण हेतु स्थल चिन्ह्ति किया गया है। इसमें ग्रामीण कार्य प्रमण्डल, दरभंगा-2 द्वारा 36,227, ग्रामीण कार्य प्रमण्डल, दरभंगा-1 द्वारा 28,961, पथ प्रमण्डल, दरभंगा द्वारा 50,250, पथ प्रमण्डल, बेनीपुर द्वारा 10,558, स्थानीय क्षेत्र अभियंत्रण संगठन, दरभंगा एवं बेनीपुर द्वारा क्रमशः 9424 एवं  8369 पौधा, लघु जल संसाधन प्रमण्डल, दरभंगा द्वारा 8822 एवं ग्रामीण कार्य प्रमण्डल, बेनीपुर एवं बिरौल द्वारा क्रमशः 870 एवं 645 पौधा लगाया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा है कि पौधारोपण हेतु उतनी ही मात्रा में सैपलिंग की उपलब्धता महत्वपूर्ण है।

उन्होंने बताया कि सैपलिंग उपलब्ध कराने की जवाबदेही वन प्रमण्डल, दरभंगा को दी गई है। वन प्रमण्डल दरभंगा द्वारा नर्सरी में सैपलिंग तैयार की जा रही है। वन पदाधिकारी पदाधिकारी दरभंगा द्वारा बताया गया कि वन विभाग के नर्सरी में 2,80,000 सैपलिंग तैयार की जा रही है। वहीं डी.पी.एम. जीविका द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा 1,80,000 सैपलिंग तैयार की जा रही है। इसके अतिरिक्त स्थानीय नर्सरी से भी पौधा प्राप्त किया जायेगा। डीडीसी द्वारा बताया गया कि मनरेगा योजना के तहत निजी जमीनों पर भी बृक्षारोपण की योजना हैं। 200 पौधे का एक यूनिट माना गया हैं।

 जिलाधिकारी ने सभी मनरेगा पीओ को विभिन्न एजेंसियों के द्वारा प्रखंड क्षेत्रों में निर्धारित पौधारोपण के लिये चयनित स्थलों के लक्ष्य की प्रखंड वार सूची तैयार करने को कहा हैं। वहीं उप विकास आयुक्त को वन प्रमंडल पदाधिकारी, डी.पी.एम. जीविका एवं प्रबंध निदेशक, आत्मा के साथ बैठक कर पौधे की उपलब्धता सुनिश्चित कर लेने को कहा गया है। नगर आयुक्त, दरभंगा को नगर क्षेत्र में वृक्षारोपण हेतु विभिन्न शिक्षण संस्थानों/एजेंसियों, सरकारी विभागों एवं एन.जी.ओ. के साथ बैठक कर स्थल का चयन एवं पौधों की आपूर्त्ति हेतु कार्य योजना को फाइनलाइज कर प्रतिवेदित करने का निदेश दिया गया है।

इस बैठक में नगर आयुक्त घनश्याम मीणा, वन प्रमंडल पदाधिकारी चंचल कुमार, उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, सभी प्रखण्डों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी, सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी, सभी कार्य विभागों के कार्यपालक अभियंता, अनुमण्डल पदाधिकारी, बिरौल बी.के. लाल, डी.सी.एल.आर., बिरौल एवं बेनीपुर, एसपीजीआरओ बिरौल, डीएसपी सदर, सिविल सर्जन, अधीक्षक, डी.एम.सी.एच. आदि उपस्थित थे।


Spread the news