नालंदा : PM साहब बिहार उत्पादक राज्य नहीं बल्कि उपभोक्ता राज्य है-अकेला

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिला चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष अनिल कुमार अकेला ने कहा कि नि :संदेह बीते कुछ दिनों में आर्थिक पैकेज की घोषणा की बेसब्री से लोग प्रतीक्षा की जा रही थी। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र कुमार मोदी ने राष्ट्र के संबोधन में करते हुए 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज की घोषणा का नालंदा चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने स्वागतयोग कदम बताया है।

उन्होंने प्रतिक्रिया जारी करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने घोषणा में किसानों, मजदूरों, छोटे उद्योग बड़े उद्योग को राहत देने की बात को स्वागत किया है और कहा है कि प्रधानमंत्री को मालूम होना चाहिए, बिहार उत्पादक राज्य नहीं बल्कि उपभोक्ता राज्य है, देश विदेश से उत्पादन माल बिहार में आते हैं और बिहार में ट्रेड दुकानदारों के जरिए उपभोक्ता तक पहुंचता है। लाँक डाउन के कारण ट्रेड छोटे छोटे दुकानदार जो 2 माह से अपनी दुकान बंद कर किए हुए हैं। उनका सामान गोदामों में खराब रहा है, बिजली बिल, दुकान एवं गोदाम किराया, मजदूरों की महीना सैलरी, बैक व्याज, घर एवं गोदाम का किराया की मार उनके ऊपर है ने कमर ही तोड़ दी है । हर मौसम में बिहार के ट्रेडिंग दुकानदार रात दिन परिश्रम कर सरकार को इन सब से बड़ा टैक्स आता है, इनका योगदान देश के विकास बिहार का विकास एवं देश के विकास में इनका अहम योगदान रहता है । प्रधानमंत्री ने दुकानदारों के लिए राहत पैकेज में दुकानदारों के लिए कोई बात चर्चा नहीं की गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मैं हाथ जोड़ कर प्रार्थना करता हू़ँ की लॉक डाउन में जो दुकानदारों की क्षति हुई है। इस राहत पैकेज के जरिए क्षतिपूर्ति की जाए, तभी बिहार और देश के विकास की परिकल्पना की जा सकती हैं ।


Spread the news
advertise