नालंदा: डीएम ने क्वॉरेंटाइन सेंटरों का किया निरीक्षण  

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिला पदाधिकारी योगेंद्र सिंह ने आज जिले के कई प्रखंडों के क्वॉरेंटाइन केंद्र का निरीक्षण किया। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डाइट नूरसराय क्वॉरेंटाइन सेंटर में फिलहाल 22 लोग हैं। यहां लोगों को सुबह शाम चाय उपलब्ध कराने का निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया।

नूरसराय के बाद  जिला पदाधिकारी नालंदा ने इंजीनियरिंग कॉलेज चंडी क्वॉरेंटाइन केंद्र पहुंचे, जहां 83 लोग हैं। इसके बाद जिला पदाधिकारी ने मध्य विद्यालय लोदीपुर, नगरनौसा स्थित क्वॉरेंटाइन केंद्र का निरीक्षण किया। यहां लगभग 100 लोग हैं। यहां बनाए गए अस्थाई शौचालय में प्रीफैब्रिकेटेड स्ट्रक्चर लगाने का निर्देश पीएचडी के अभियंता को दिया गया। नगरनौसा के बाद जिला पदाधिकारी ने आदर्श मध्य विद्यालय डियावां, कराय परशुराय का निरीक्षण किया। यहां 51 लोग हैं। यहां साफ-सफाई की कमी पाई गई। कुछ लोगों को डिग्निटी किट उपलब्ध नहीं कराया जा सका था।

जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी करायपरशुराय पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए उनसे स्पष्टीकरण पूछा। अविलंब यहां की व्यवस्था को दुरुस्त करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी हिलसा को स्वयं इसकी मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया। इसके बाद जिला पदाधिकारी योगेंद्र सिंह एस यू कॉलेज हिलसा स्थित क्वॉरेंटाइन केंद्र पहुंचे। जहां फिलहाल 46 लोग हैं। उन्होंने यहां बनाए गए अस्थाई शौचालय में प्रीफैब्रिकेटेड स्ट्रक्चर लगाने का निर्देश पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता को दिया।

 हिलसा के बाद जिला पदाधिकारी ने परवलपुर प्रखंड के राजकीयकृत उच्च विद्यालय स्थित क्वॉरेंटाइन केन्द्र का निरीक्षण किया। यहां फिलहाल 28 लोग हैं। यहां भी अस्थाई शौचालय में प्रीफैब्रिकेटेड स्ट्रक्चर लगाने का निर्देश दिया गया।निरीक्षण के क्रम में जिला पदाधिकारी ने सभी केंद्रों पर रह रहे लोगों से भोजन की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। लगभग सभी जगहों पर लोगों ने भोजन की व्यवस्था पर संतोष व्यक्त किया। कुछ केंद्रों पर चाय उपलब्ध नहीं कराने की जानकारी दी गई। जिला पदाधिकारी ने संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रतिदिन सुबह एवं शाम में चाय उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। क्वॉरेंटाइन केन्द्र पर रह रहे सभी बच्चों के लिए स्थानीय स्तर पर दूध भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

 इस संबंध में भी जिला पदाधिकारी ने लोगों से पूछताछ की।उन्होंने क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों से बड़े ही आत्मीयता से हाल चाल के बारे में पूछा। “कहां से आए हैं, किस माध्यम से आए हैं, जहां रहते थे वहां क्या रोजगार करते थे, कैसे पारिश्रमिक का भुगतान होता था, परिवार में कौन-कौन लोग हैं, उनकी क्या स्थिति है, आदि के बारे में जिला पदाधिकारी ने लोगों से जानकारी ली।

 निरीक्षण के क्रम में उन्होंने सभी केंद्रों पर साफ सफाई की मुकम्मल व्यवस्था रखने का निर्देश दिया। शौचालयों की सफाई निरंतर कराते रहने को कहा गया।कमरा संख्या के साथ शौचालयों की टैगिंग करने का निदेश दिया। उन्होंने सभी केंद्रों पर शौचालयों का स्वयं निरीक्षण किया।निरीक्षण के क्रम में पुलिस अधीक्षक, अनुमंडल पदाधिकारी हिलसा, संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं स्थानीय पदाधिकारी उपस्थित थे।


Spread the news