मधेपुरा : दर्जनों उपभोक्ताओं ने डीलर के खिलाफ एसडीएम से की लिखित शिकायत

728x90
Spread the news

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिले के उदाकिशुनगंज प्रखंड के लक्ष्मीपुर पंचायत के वार्ड नंबर 1, 2 और 3 के सैकड़ों राशन कार्ड धारीयों ने जन वितरण प्रणाली विक्रेता शंभू कुमार यादव के खिलाफ उदाकिशुनगंज एसडीएम एसजेड हसन से लिखित शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

उपभोक्ता घनश्याम यादव, राधेश्याम, राहुल कुमार, महेंद्र शाह, पवन मुखिया, निर्मल कुमार, दीपक शर्मा, पिंकी देवी, सौरभ कुमार, ज्योतिष यादव, प्रमिला देवी, बीना देवी, कैली देवी, रेखा देवी, मिथिलेश यादव सुरेंद्र मुखिया सहित सैकड़ों उपभोक्ताओं का कहना है कि जन वितरण प्रणाली विक्रेता के द्वारा हमेशा राशन देने में टालमटोल किया जाता है और जब भी देता है तो स्वयं डीलर अपना अंगूठा लगाकर हम लोगों को राशन वितरण करता है हम लोगों से कभी भी अंगूठे का निशान नहीं लिया जाता है।

ज्ञात हो कि खाद्यान्न गवन के आरोप में इससे पूर्व में भी जनवितरण प्रणाली के विक्रेता शंभू प्रसाद यादव को बर्खास्त किया गया था। उपभोक्ताओं ने एसडीओ को लिखित शिकायत कर कहा है कि हम लोग निहायत हीं गरीब मजदूर हैं। मजदूरी ही हम लोगों का मुख्य पेशा है। लाँकडॉउन की स्थिति में कामकाज नहीं होने के कारण हम लोगों के साथ भूख की समस्या उत्पन्न हो गयी है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना द्वारा भेजे गए राशन ही हमारे परिवार के भोजन का मुख्य साधन है। जन वितरण प्रणाली के विक्रेता शंभू प्रसाद यादव के द्वारा लाँकडॉउन का हवाला देकर भीड़ इकट्ठी नहीं होने देने का बहाना बनाकर हमेशा टालमटोल करते रहते हैं। लगभग 5 दिनों से लगातार हम सभी उनके दुकान पर राशन लेने हेतु जाते हैं लेकिन जन वितरण प्रणाली विक्रेता द्वारा हम लोगों को कहा जाता है कि आप लोगों के नाम से राशन आवंटित नहीं हुआ है। हम सबों का अंगूठा कंप्यूटर पर काम नहीं करता है जबकि स्वयं डीलर अपना अंगूठा लगाकर पूर्व में भी राशन दिया करते थे। और अब भी इसी तरह करते हैं। हम सबों को ऐसा लगता है कि इसमें डीलर की कतई गहरी साजिश है। क्योंकि पूर्व में खनन का आरोप में जनवितरण प्रणाली के विक्रेता शंभू प्रसाद यादव को बर्खास्त किया गया था।


Spread the news