मुजफ्फरपुर :  सकरा में चार कोरोना संदिग्धों की पहचान, लिए जाएंगे नमूने

728x90
Spread the news

अंजुम शहाब
ब्यूरो
मुजफ्फरपुर

मुजफ्फरपुर/बिहार :  मुजफ्फरपुर में कोई आब ताक कोरोना पॉजिटिव केस नहीं मिला है । एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ.सुनील कुमार शाही ने बताया कि 231 नमूने अब तक संग्रह कराकर जांच की गई। ये सभी निगेटिव मिले। इंडिगो विमान से सफर के दौरान नालंदा के एक पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले सात लोगों की रिपोर्ट आ गई है। ये सभी निगेटिव मिले। इससे विभाग के अधिकारियों ने राहत की सांस ली। शनिवार को एसकेएमसीएच में दो व सदर अस्पताल में चार नमूने संग्रहित किए गए। वहीं, 34 लोगो की स्क्रीनिंग हुई। जिला कंट्रोल रूम के नोडल पदाधिकारी डॉ.सीके दास ने बताया कि नमूना संग्रह का काम सदर अस्पताल में भी शुरू कर दिया गया है। पहले दिन शहरी इलाके के चार संदिग्धों के नमूने लिए गए। वहीं, सकरा में हर घर सर्वे कर रही टीम ने चार संदिग्धों को चिन्हित किया है।

वहीं विदेशों या नेपाल से आए 320 लोगों के गांवों में हर घर का सर्वे कराया जा रहा है। जिले में वैसे 188 गांव चयनित किए गए हैं। इनमें पल्स पोलियो अभियान में काम करने वाली 367 टीमें सर्वे कर रही हैं। दूसरे दिन 12263 घरों में जाकर 61407 लोगों का टीमों ने हेल्थ सर्वे किया। सर्वे के लिए प्रपत्र दिया गया है। इसमें घर में रहने वाले सदस्यों का नाम, उनकी ट्रेवल हिस्ट्री, व स्क्रीनिंग कर स्वास्थ्य की जानकारी ली जा रही है। चयनित गांवों में कोई गंभीर सर्दी-खांसी या सांस संबंधी बीमारी से ग्रसित मिलता है तो उसकी जांच के बाद नमूना संग्रह किया जा रहा।

 आठ दिनों तक चलेगा हर घर सर्वे का अभियान : सिविल सर्जन डॉ.एसपी सिंह ने बताया कि विदेशों या नेपाल से आए लोग जिस गांव में रह रहे हैं, वहां पर आठ दिनों तक हर घर सर्वे अभियान चलेगा। कोई भी संदिग्ध मरीज मिलने पर उनकी पहचान कर सदर अस्पताल लाकर जांच कराने के साथ नमूने लिए जाएंगे। इन्हें जांच के लिए एसकेएमसीएच भेजा जाएगा। सर्वे में यूनिसेफ, डब्ल्यूएचओ व केयर इंडिया की टीमें स्वास्थ्य विभाग का सहयोग कर रही हैं। वह खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.विनय कुमार शर्मा की देखरेख में प्रतिदिन शाम में समीक्षा चलेगी।


Spread the news