दरभंगा : सिंहवाड़ा प्रखंड के प्रशासनिक अधिकारियों सहित थानाध्यक्ष का अमानवीय चेहरा आया सामने- अभिजीत कुमार

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : लॉक डाउन के कारण एक तरफ जहाँ लोगो का दैनिक जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है, वही प्रशासन द्वारा लोगो के हित के लिए लॉक डाउन का पूरे ज़िला में सख्ती से पालन कराया जा रहा है, जो अच्छी बात है। इस क्रम में हायाघाट सहित कई प्रखंडों से पुलिस के द्वारा आम लोगो की पिटाई करने का मामला भी सामने आ रहा है। जिसमे एक मामला सिंहवाड़ा प्रखंड से जुड़ा है।

इसी संदर्भ में मानवाधिकार इमरजेंसी सोशल हेल्पलाइन के प्रदेश अध्यक्ष अभिजीत कुमार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि देश में एक तरफ जहाँ कोरोना वायरस जैसे महामारी को लेकर सरकार द्वारा मानव हित के लिए अति आवश्यक सेवा को छोड़कर लॉक डाउन कर दिया गया है जिसका पालन देश के सभी जिम्मेदार नागरिक कर भी रहे हैं। कुछ जगह गैर जिम्मेदार लोग इसका पालन नहीं कर रहे हैं, प्रशासन एवं पुलिस को सख्ती से पालन कराने हेतु जिम्मेदारी दी गई है और इसके उल्लंघन करने वालों के लिए कानून सम्मत कार्रवाई कई जगह की भी जा रही है।

लेकिन कुछ प्रशासन और पुलिस के लोग कानून से ऊपर उठकर सजा दे रहे हैं जो बिल्कुल असंवैधानिक है। प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि दिनांक 6/4/20 कि संध्या 4:00 बजे बोका चौक पर सिंहवाड़ा प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष द्वारा लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर विधि के अनुसार कानूनी कार्रवाई ना कर सीधे सजा देते हुए पहले लाठियों की बरसात करने के साथ-साथ मानवीय गरिमा का ख्याल ना रखते हुए मानव अधिकार का घोर उल्लंघन करते हुए आम नागरिकों के सामने उसे आधे किलोमीटर तक रोड पर बलपूर्वक रेंगने के लिए मजबूर किया गया जो बेहद शर्मनाक है। ऐसे अधिकारी के विरुद्ध वरीय अधिकारी को अभिलंब कार्रवाई करनी चाहिए।

उन्होंने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि उम्मीद करता हूँ कि ज़िला के आला अधिकारी इस प्रकरण की जांच कर विधि सम्मत कारवाई भी करेंगे।


Spread the news