नालंदा : राहत सामग्री वितरण के दौरान दो समुदायों में हुई जमकर मारपीट, 3 घायल 1 रेफर, गांव में तनाव

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार: जिले के इस्लामपुर थाना क्षेत्र स्थित बड़ी पैठना गांव में गरीबों के बीच राहत सामग्री वितरण के दौरान दो समुदाय आपस में भिड़ गए और जमकर मारपीट हुई, जिसमें 3 व्यक्ति घायल हो गए, घायलों में एक की हालत गंभीर देखते हुए उसे पटना रेफर कर दिया गया है।

बताया जाता है कि पीर बीघा निवासी मौलाना नूरुद्दीन आशदक के द्वारा अपने गांव में लगातार गरीबों के बीच राहत सामग्री का वितरण किया जा रहा हैं, इसी दौरान उन्हें सूचना मिली कि 2 किलोमीटर दूर पड़ोसी गांव बड़ी पैठना में लोगों को खाने के लाले पड़ रहे हैं। इसी सूचना के आलोक में मौलाना ने खाने की सूखा राशन के सामानों की पैकिंग करा कर अपने गाड़ी से राहत सामग्री वितरण करने के लिए बड़ी पैठना गांव पहुंचे, लेकिन बांटने के उपरांत भीड़ काफी इकट्ठा हो गई और लोगों को भीड़ कम करने के लिए समझाने लगे, जिस पर एक समुदाय दूसरे समुदाय से उलझ गए, इसी दौरान धीरे-धीरे दोनों समुदाय के लोग जमा हो गए और त -तू मै-मै के बाद मारपीट होने लगी, जिसमें दोनों तरफ से दर्जनों लोगों को हल्की चोटें आई, जिसमें 3 लोगों की गंभीर अवस्था को देखते हुए स्थानीय इस्लामपुर प्राइमरी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां एक की हालत की गंभीरता को देखते हुए तुरंत पटना रेफर कर दिया गया ।

घायलों में मो0 अनु मलिक, मोहम्मद टुन्नू मलिक और सुनाओ जमा शामिल हैं। जिसमें अन्नू मलिक को पटना रेफर कर दिया गया है। इस घटना की सूचना मिलते ही हिलसा डीएसपी, एसडीओ, सर्किल इंस्पेक्टर, वी डी ओ, सी ओ और थाना प्रभारी पूरे दलबल के साथ गांव पहुंचे और स्थिति को संभाला। फिलहाल स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है लेकिन गांव में तनाव की स्थिति बताई जा रही है। कुछ लोगों का कहना है कि राहत सामग्री वितरण करने समय पुलिस प्रशासन को सूचना देना जरूरी है, इसलिए के भीड़ जब ज्यादा इकट्ठा हो जाती है तो लॉक डाउन का पालन पूरी तरह से खत्म हो जाती है। इस घटना पर डीएसपी और थाना इंचार्ज ने बताया कि पूरी तरह गांव में स्थिति नियंत्रण में है और मारपीट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 समाचार संकलन करने तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पाई थी लेकिन थानाध्यक्ष ने बताया की जल्द ही प्राथमिकी दर्ज हो जाएगी, घायलों के इलाज में सभी लोग अभी व्यस्त हैं।


Spread the news
advertise