नालंदा: लॉकडाउन व्यापक असर, सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा,  घरों में खुद कैद रहे लोग

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार: जिले में नोबेल कोरोना वायरस जैसे खतरनाक बीमारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन का व्यापक असर देखा जा रहा है, शहर से लेकर गांव तक सड़कों से लेकर तंग गलियों तक सन्नाटा पसरा हुआ है।

लोगों को जागरूक करने के लिए दिन भर प्रशासन के अधिकारियों के द्वारा मैकिंग प्रचार कर जानकारी दी गई, सभी चौक चौराहों पर पुलिस बल तैनात रहे और बेवजह आने-जाने वालों पर कड़ी नजर रखी गई, बेवजह सड़कों पर घूमने वाले लोगों को पुलिस पहले रोका फिर टोका और समझा कर उसे छोड़ दिया गया, फिर कहा गया कि अगर बेवजह घूमते हुए पकड़े गए तो अब ठोका जाएगा।

राष्ट्रीय राजमार्ग 20 रांची रोड के अलावे शहर के सभी बड़े बड़े मॉल से लेकर छोटी-छोटी दुकानें तक में ताले लटके रहे। सिर्फ जरूरत के मुताबिक खाने पीने वाले सामानों को खरीदारी करने के लिए लोग घरों से बाहर निकले और खारीदारी करने के बाद फौरन अपने घर में वापस लौट आए। दिनभर चकाचौंध रहने वाला शहर रामचंद्रपुर बस स्टैंड पुरी तरह सुनसान दिखाई दिया और सन्नाटा पसरा हुआ था। जिला प्रशासन बार-बार अपने मैंकिंग प्रचार के द्वारा जनता से ज्यादा घबराने और दहशत ना पैदा करने की बात कहते हुए पूरी तरह सतर्कता व सावधानी और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखने की बातों को बताया जाता रहा।

वहीं दैनिक मजदूरी करने वाले जनता काफी परेशान हाल दिखे उन्होंने बताया की खतरनाक सूरत कहीं करोना वायरस से पैदा न हो गए तो हमारा जीवन का जीवन यापन कैसे किया जाएगा, यह बहुत ही चिंता की बात है।


Spread the news