कोरोना वायरस पर मधेपुरा जिला प्रशासन अलर्ट : मेडिकल कॉलेज में बना 106 बेड का आइसोलेशन वार्ड, लेकिन कोरोना जांच संभव नहीं

728x90
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : कोरोना वायरस को लेकर जहां बिहार सरकार द्वारा 31 मार्च तक लॉक डाउन करने का निर्देश दिया गया है । वहीं इस वायरस से बचाव के लिए तथा संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, सदर अस्पताल प्रशासन तथा जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद हो चुकी है । जिले में बिहार सरकार द्वारा दिए गए लॉक डाउन निर्देश का सख्ती से पालन किया जा रहा है ।

देखें वीडियो :

वहीं जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला, पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, एडीएम सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी शिव कुमार शैव, सदर अनुमंडल पदाधिकारी वृंदा लाल, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी वसी अहमद समेत सभी अधिकारी स्वयं सड़कों पर उतरकर लोगों को लॉक डाउन के निर्देश का पालन करने के लिए निर्देश दे रहे हैं । वही जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में कोरोना वायरस को लेकर संदिग्ध लोगों को आइसोलेटेड करने के लिए 106 बेड तैयार किया गया ।

जेकेटी में बना 106 बेड का आइसोलेशन वार्ड : जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में तैयार किए गए 106 बेड के आइसोलेशन वार्ड का मंगलवार को जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला, पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, एडीएम शिव कुमार शैव ने निरीक्षण किया । मौके पर जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है । इसी क्रम में जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में 106 वेद का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है । जिसमें संदिग्ध लोगों को लाया जाएगा तथा आइसोलेटेड किया जाएगा । उन्होंने बताया कि आइसोलेशन वार्ड की स्थिति दुरुस्त है, जो भी कमियां पाई जाएगी उसे जल्द ही दुरुस्त कर लिया जाएगा । कोरोना जांच के सवाल पर जिलाधिकारी ने बताया कि यहाँ जांच की सुविधा नहीं है, फिलहाल पटना में यह सुविधा उपलब्ध लेकिन जल्द ही दरभंगा मेडिकल कॉलेज में भी कोरोना जांच की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी ।  वही मौके पर उपस्थित डा अंजनी कुमार ने बतााया कि मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों को आइसोलेटेड करने के लिए पूरी तरह तैयार है । आइसोलेशन वार्ड में विभागीय 20 डॉक्टर एवं 20 कर्मियों को कार्य सौंपा गया है ।

अस्पताल प्रशासन कोरोना वायरस को लेकर है तैयार : वहीं दूसरी तरफ सदर अस्पताल प्रशासन भी कोरोना वायरस को लेकर पूरी तरह तैयार है । संदिग्ध लोगों की लगातार जांच की जा रही है । वही स्थानीय लोग भी स्वयं जांच के लिए सदर अस्पताल पहुंच रहे हैं जिसका उपस्थित डॉक्टर एवं कर्मियों के द्वारा जांच किया जा रहा है । साथ ही संदिग्ध लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखकर आइसोलेटेड किया जा रहा है । सदर अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड की क्षमता बढ़ाकर 13 बेड का कर दिया गया है । चार बेड की क्षमता से आइसोलेशन वार्ड की शुरुआत की गई थी, लेकिन कोरोना के विरूद्ध और व्यापक तैयारी के तहत इसकी क्षमता वृद्धि की गई है ।

कोरोना वायरस के विरुद्ध  व्यापक तैयारी को लेकर जिले के कई प्रखंडों में भी पांच बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है । मधेपुरा सदर अस्पताल में भी पांच बेड का आइसोलेशन वार्ड बनवाया गया है, जहां पर संदिग्ध मरीजो के प्राथमिक उपचार के बाद दरभंगा या भागलपुर रेफर कर दिया जायेगा, जहां पर संदिग्धों की जांच कर यह पता लगाने की कोशिश की जायेगी कि मरीज कोरोना से ग्रसित है अथवा नहीं, अगर कोई मरीज ग्रसित निकला तो उसे अलग अलग वार्ड में भर्ती कर विशेषज्ञों के देखरेख में इलाज किया जायेगा । चिकित्सकों व अन्य कर्मचारियों की सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुये अस्पताल प्रशासन द्वारा सभी को मास्क एवं दस्ताने उपलब्ध करवाये गये है ।

दुकाने रही बंद, सिर्फ मेडिकल एवं किराना दुकान रही खुली : कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए रविवार देर रात राज्य सरकार द्वारा लॉक डाउन के आदेश को लेकर मंगलवार को जिला प्रशासन पूरी तरह साफ दिखाई दी । शहर के तमाम दुकानें बंद रही परिचालन भी पुरी तरह ठप रहा । वहीं दुध,किराना एवं मेडिकल स्टोर पर कुछ लोगों को देखा गया, बाजार बंद को लेकर जरूरत की सामग्री के लिए जेनरल स्टोर व मेडिकल स्टोर पर खडे नजर आये ।

 ज्ञात हो कि भारत सरकार जरूरी सामान के खुली दुकानों पर भीड़ न लगाने की अपील की है । साथ खाद्दय पदार्थों को लेकर फिक्रमंद न होने की बात भी कही है । सरकार ने लोगों से अपील करते हुए कई बार इस बात का जिक्र किया है कि सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में खाद्दय सामग्री उपलब्ध है, लोगों को खाद्दय सामग्री के खत्म हो जाने की चिंता करने की जरूरत नहीं है, इसके लिए भीड़ इकट्टा करने से परहेज करने की बात लगातार की जा रही है ।

अधिकारी कर रहें है सोशल डिस्टेंसिंग रखने की अपील : मंगलवार को कोरोना को लेकर अधिकारी सड़को पर घुम कर लोगों को जागरूक करते नजर आये । मंगलवार को डीएम नपदीप शुक्ला, एसपी संजय कुमार, सदर एसडीओ वृंदा लाल, सदर एसडीपीओ वसी अहमद लोगों को कोरोना को लेकर माइक के माध्यम से जागरूक करते नजर आये । अधिकारी लोगों से बेवजह घर से ना निकलनें की हिदायत दे रहे थे । साथ ही कोरोना से बचाव को लेकर जारी निर्देश को पालन, घरों में साफ सफाई रखने व सोशल डिस्टेंसिंग रखने की भी अपील लगातार कर रहें थे ।

 टांगे गए बैनर, लोगों को किया जा रहा है जागरूक : कोरोना वायरस को लेकर लोगों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है । इसको लेकर सदर अस्पताल प्रशासन लगातार लोगों को जागरूक करने की कोशिश कर रही है । इसके तहत सदर अस्पताल में लोगों को जागरूक करने के मद्देनजर बैनर भी टांगे गए हैं । जिसमें कोरोना वायरस के लक्षण एवं उससे बचने के उपाय का जिक्र किया गया । साथ ही अंकित लक्षणों में कोई भी लक्षण नजर आने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में से संपर्क करने की बात भी कही गई है । लगाए गए बैनर के माध्यम से लोगों को मास्क का उपयोग करने पर ज्यादा बल दिया जा रहा है । बैनर पर स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं के निदान के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है ।


Spread the news