सुपौल : जनता कर्फ्यू के दौरान राघोपुर की सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा

728x90
Spread the news

राघोपुर से सिकंदर आलम की रिपोर्ट :

सुपौल/बिहार : कोरोना वायरस से फैलने वाले  महामारी को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपील पर रविवार को देशहित में लगाया जनता कर्फ्यू का व्यापक असर सुपौल के राघोपुर प्रखण्ड में भी देखने को मिला। प्रखंड के सिमराही, करजाईन, राघोपुर ,गनपतगंज आदि बाजारों में दुकानें पूरी तरह बंद रही । तथा फुटकर भी कही कोई दुकान लगा नजर नही आया। सुबह 7 बजे से लोग अपने घरों में ही रुके रहे जिस वजह बाजार में पूरी तरह सन्नटा पसरा रहा।

सिमराही से गुजरने वाला एनएच 106 सड़क एवं एनएच 57 सड़क पर वाहनों का आवागमन पूरी तरह ठप रहा। हालाँकि एम्बुलेंस की गाडी घण्टे में एक ,दो चलती नजर आई, बाजार बंदी में किसी प्रकार की अप्रिय घटना नही घटे इसके मद्देनजर राघोपुर थानाध्यक्ष सरोज कुमार एवं करजाईन थानाध्यक्ष अपने अमलो के साथ लगातार गस्त करते दिखे।

जैसा कि प्रधानमंत्री ने अपील किया कि आम जनता यदि एक दिन घर मे रहे तो एक आदमी से दूसरे आदमी तक पहुंचने में वायरस  को जो 12 घण्टा का समय लगता है वह इस 14 घण्टे के बन्दी के कारण अप्रभावी रहेगा। जनता कर्फ्यू के वजह लोगो ने अपने पूर्व से निर्धारित विवाह आदि के कार्यक्रम को रद्द कर दिया अथवा आगे बढ़ा दिया। रविवार को सिमराही के वार्ड 8 निवासी स्वर्गीय मो नजरे आलम के पुत्र मो मेराज का विवाह नेपाल के सप्तरी फतेहपुर निवासी मो एकरामुल के पुत्री खोदीजा प्रवीण से होना तय था जिसे जनता कर्फ्यू के कारण स्थगित कर आगे बढ़ा दिया गया है।

सिमराही के समाजसेवी जदयू नेता मो नूर आलम ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को सहयोग कर महामारी को रोकने के लिए सभी दल एवं जाती एवं सम्प्रदाय के लोगों ने प्रधानमंत्री के अपील पर जनता कर्फ्यू को अपना समर्थन देकर अनेकता में एकता का परिचय दिया है। अल्लाह से दुआ करता हूं कि इस महामारी में हम इंसानों का जान का हिफाजत करे।


Spread the news