पंजाब : एन.पी.आर पर सिर्फ सफाई नहीं अध्यादेश लाए सरकार-उस्मान रहमानी 

Spread the news

 लुधियाना शाहीन बाग में पवित्र कुरान पढक़र देश में भाईचार के लिए दुआ करवाई

मेराज आलम
ब्यूरो-लुधियाना, पंजाब

लुधियाना/पंजाब  : जालंधर बाईपास नजदीक दाना मंडी में चल रहे शाहीन बाग आंदोलन के 31वें दिन फूलेवाल, मोती बाग़ कालोनी से हाजी अनीस, मुहम्मद अकरम, हाफिज़ हसीब उर रहमान, नौशाद आलम, रियाज अहमद, मुश्ताक अहमद, वक़ार आलम, हाजी शहजाद, मुहम्मद गुलबहार, नसीम अहमद, परवेज़ आलम की अध्यक्षता में महिलाओं का बड़ा काफिला पहुंचा। 

संबोधित करते हुए नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने कहा कि एन.पी.आर पर केंद्र सरकार के गृहमंत्री अमित शाह की सफाई काफी नहीं है, सरकार की नीयत अगर साफ है तो अध्यादेश लेकर नागरिकों को आश्वस्त करें कि किसी को डी-वोटर नहीं बनाया जाएगा। उस्मान रहमानी ने कहा कि देश के सभी भाई, बहन एन.पी.आर और एन.आर.सी के विरोध में एकजुट है। उन्होंने कहा कि यह देशव्यापी शाहीन बाग अंदोलन का ही असर है कि कल तक अपने नागरिकों को एन.पी.आर में डी-वोटर बनाने की बात करने वाले आज संसद की पटन से कागज नहीं देखने की सफाई दे रहे हैं। 

उस्मान रहमानी ने कहा कि सी.ए.ए में अगर सरकार मानवता की बात करती तो उनका स्वागत था, लेकिन सरकार ने अपने राजनीतिक फायदे की बात की है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार वह पहली सरकार है जिसने विश्व भर में भारत के लोकतंत्र को बदनाम कर दिया है। 

नौजवान सभा के जसमीत सिंह ने कहा कि शाहीन बाग अंदोलन सब का है यह सिर्फ मुसलमनों का नहीं है, इसलिए सरकार चिंतित नजर आती है। उन्होंने कहा कि शहीद भगत सिंह ने जिस आजादी की बात की थी उस में एन.आर.सी और एन.पी.आर के लिए कोई जगह नहीं है। 

उन्होंने कहा कि देश को अंग्रेज से आजाद करवाने में सभी का खून शामिल है भारत में सभी धर्मो के लोग एक थे एक ही रहेंगे।

सभा को बामसैफ के जय सिंह, साहिबा नूरी,अदीबा खातून, आस्मा खातून, गुलशन, मुहम्मद मुस्तफा, खुशनुमा खातून, मुजम्मिल,अस्मा खातून, आइशा खातून, सज्जाद आलम, जोगिंदर राय, इरशाद अली,  सनाउल्लाह, गुफरान शावेज़, मुहम्मद मुस्तफा ने भी संबोधन किया।


Spread the news
advertise