मधेपुरा : हर्षोल्लास के साथ जिले भर में मनायी गयी होली, शहर से लेकर गांव तक होली की मस्ती में डूबे रहे लोग

728x90
Spread the news

विज्ञापन
अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिले में होली परंपरागत हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी। जिला मुख्यालय सहित विभिन्न प्रखंडों में मंगलवार को रंगों का त्योहार होली शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया। दो दिनों तक शहर से लेकर गांव तक के लोग होली की मस्ती में डूबे रहे।

होली के पूर्व संध्या पर सोमवार को जिला मुख्यालय के पुरानी बाजार एवं बांग्ला दुर्गा मंदिर परिसर में होलिका दहन किया गया। मंगलवार को होली खेली गई। आम से खास लोगों में होली को लेकर उत्साह व उमंग उछाल मार रहा था। चारों तरफ जश्ननुमा माहौल बना रहा। मंगलवार की अहले सुबह से शहर के लोग होली के रंग में रंगते नजर आये। हर कोई होली की सतरंगी रंगों में सराबोर दिखे। वहीं कई जगहों पर जोगिरा के लिए लोगों का जमावड़ा रहा। क्या बच्चे, क्या बूढ़े, क्या जवान सभी का उत्साह एक जैसा लग रहा था। सब के सब रंग, अबीर व गुलाल से तर-बतर थे. एक दूसरे को रंग-अबीर-गुलाल लगाकर अपनी खुशी का इजहार कर रहे थे। बुर्जुगों के पैर पर अबीर डालकर आशीर्वाद लेने का सिलसिला चलता रहा।

दो दिनों में सभी भेद-भाव मिट चुके थे। महिलाएं व लड़कियों ने भी अपने तरीके से होली का मजा लिया। सभी में होली की मस्ती व सुरूर छाया हुआ था। महिलाएं भी एक-दूसरे के घर पहुंचकर होली रंग-अबीर डालने के बाद पैर छुुए। गले मिलाकर रश्म अदायगी पूरी की। लोग एक दूसरे को मिठाइयां व विभिन्न तरह के पकवान भी खिला रहे थे। खासकर युवा के मौज मस्ती क्या कहने। इन लोगों का होली का उत्साह चरम पर रहा। ये लोग जगह-जगह टोली बनाकर होली में हुड़दंग मचा रहे थे, और झूम रहे थे। फाग के विभिन्न गीतों की धुनों पर जमकर डांस भी हो रहे थे।

 होली के मौके पर सभी जाति धर्म के लोगों ने काफी सौहार्दपूर्ण तरीके होली पर्व मनाया। एक-दूसरे को रजामंदी से रंग गुलाल लगाने के साथ साथ सभी ने एक दूसरे को पर्व की बधाई भी देते रहे। युवाओं की टोली भोजपुरी रिमिक्स गीतों पर झूमते नजर आये।

होली में बदला मौसम का मिजाज : होली को देखते हुए चुस्त दुरूस्त प्रशासनिक व्यवस्था के सामने हुड़दंग करने वालों की एक न चली। जिले में सभी चौक चौराहों पर पुलिस बल की तैनाती की गई थी। साथ ही कमांडो हेड विपिन कुमार के नेतृत्व में कमांडो टीम एवं पुलिस बल लगातार गस्त कर रहे थे। जिले के उच्चाधिकारियों द्वारा भी लगातार सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया जा रहा था। हालांकि जिला मुख्यालय सहित अन्य जगहों पर छिटपूट घटनाएं होती रही। जिला प्रशासन की कड़ी निगरानी से होली जैसे पर्व में मौसम का मिजाज बदला बदला सा दिखा। होली में सड़क पर तेज रफतार बाइक की रफतार धीमी पड़ गयी। जिससे सड़क दुर्घटना पर भी ब्रेक लग गया। हर तरफ शांतिपूर्ण व हर्षोल्लास पूर्व लोगों ने होली मनायी। शहर से लेकर गांव तक गजब का माहौल देखा गया। वहीं रंगो के त्यौहार होली पर्व के अवसर पर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा एक दूसरे को बधाई दी गई।


Spread the news