नालंदा : रहुई में डॉक्टर को गोली मारकर हत्या, आक्रोशित लोगों ने सड़क जामकर जताया विरोध

Spread the news

विज्ञापन
मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले में इन दिनों अपराधिक घटनाएं बढ़ गई हैं और इसी कड़ी में अपराधियों ने दिनदहाड़े एक डॉक्टर को गोली मारकर हत्या कर दी। यह मामला राहुल थाना क्षेत्र के शायदी पुर मोड़ के पास की है और मृतक की पहचान डॉक्टर प्रियारंजन कुमार प्रियदर्शी के रूप में की गई है जो हरनौत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित और गोकुलपुर मठ में डेपुटेशन पर थे ।

विज्ञापन

सूत्रों के अनुसार डॉक्टर प्रियरंजन कुमार प्रियदर्शी अपने बाइक पर सवार होकर ड्यूटी पर जा रहे थे तभी अपराधियों ने रहुई थाना क्षेत्र के शादीपुर मोड़ के पास उन्हें छह गोली मारी, जिसमें दो गोली उनके सर में दो गोली सीने में और दो गोली लगी, जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मृत्यु हो गई। बताया जाता है कि डॉक्टर प्रियारंजन कुमार प्रियदर्शी नूरसराय थाना क्षेत्र के नोसरा गांव के निवासी थे बाइक से अपने ड्यूटी करने के लिए जा रहे थे।

डॉक्टर की हत्या के बाद आक्रोश में जिला सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने 2 घंटे के लिए सदर अस्पताल की ओपीडी सेवा को ठप कर दिया। मृतक हरनौत के जद यू के पूर्व विधायक इंजीनियर सुनील कुमार के नजदीकी रिश्तेदार बताया जा रहे हैं। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बिहार से सदर अस्पताल भेज दिया। हालांकि घटना के कारणों की पता समाचार संकलन तक नहीं हुई थी। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। इधर पोस्टमार्टम होने के बाद आक्रोशित लोगों ने शव को अस्पताल मोड़ पर रखकर सड़क जाम कर दिया जिससे शहर की यातायात व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई। मृतक के परिवार वालों का मांग थी कि फौरन अपराधियों की गिरफ्तारी की जाए, मृतक के आश्रितों को आजीवन लाभ दिया जाए और सरकारी नौकरी की व्यवस्था की जाए।

विज्ञापन

एक तरह जहां दिन में हड़ताली शिक्षकों के कारण शहर की यातायात व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई तो दूसरी तरफ डॉक्टर हत्या के खिलाफ सड़क जाम ने भी यातायात व्यवस्था को चौपट कर दिया। जिससे इस जिले मुख्यालय में आने वाले गांव ग्राम के लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।

गौरतलब बात यह है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह जिला है और यहां लगातार अपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही है, जबकि पुलिस प्रशासन भी अपराधियों से निपटने के लिए तत्पर है फिर भी अपराधी घटना को अंजाम देने में सफल हो जाते हैं।


Spread the news
advertise