मधेपुरा : अनिश्चितकालीन हड़ताल पर डटे हैं नियोजित शिक्षक

728x90
Spread the news

विज्ञापन
कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर जिले के उदाकिशुनगंज प्रखण्ड के नियोजित शिक्षकों की हड़ताल तेरहवें दिन शनिवार को भी जारी रहा। सभी हड़ताली शिक्षक बीआरसी के बाहर धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए। राज्य कर्मी का दर्जा, समान सेवा शर्त सहित पुरानी पेंशन को लेकर शिक्षकों ने अपनी चट्टानी एकता प्रदर्शित किए।

विज्ञापन

शनिवार के धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता संघ के अध्यक्ष बृज बिहारी यादव ने किया। इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि सोची-समझी साजिश के तहत हमलोगों के साथ सरकार द्वारा भेदभाव किया जा रहा है।  सचिव उमेश यादव ने कहा कि सरकार के द्वारा हड़ताल में गए शिक्षकों को डराने के लिए बिना उनके पक्ष जाने ही बर्खास्त और एफआईआर कराया जा रहा है। शिक्षक प्रहलाद कुमार ने कहा कि राज के मुखिया द्वारा राज्य के मुखिया द्वारा शिक्षकों पर दिया गया ब्यान अमर्यादित है। शिक्षक पंकज कुमार ने कहा कि नीतीश कुमार जी द्वारा इस तरह का बयान उनके शिक्षक विरोधी चेहरे और शिक्षकों के प्रति असंवेदनशीलता को दर्शाता है।  सरकार हड़ताल करने के संवैधानिक हक को छीनना चाहती है। शिक्षक गुंजन कुमार सिंह ने कहा कि शिक्षक 1 मार्च को सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के विधायकों का क्षेत्रीय आवास का घेराव किया जाएगा एवं मांग पत्र दिया जाएगा।

विज्ञापन

धरना प्रदर्शन में मौके पर शिक्षक डोमी राम, मोहम्मद मोजीवुर रहमान, अमित कुमार, विमल सिंह, विमल कुमार, पंकज कुमार, पुरुषोत्तम कुमार, संजीव कुमार सिंह, अविनाश कुमार, पंकज कुमार, प्रेम प्रकाश कुमार, अखिलेश कुमार मेहरा, आलोक कुमार, रामचंद्र राम, उमेश कुमार यादव, मुकेश कुमार, मो अब्दुल्लाह, प्रमोद कुमार परवाना, गोपाल प्रसाद जायसवाल, गोपाल प्रसाद जायसवाल, राहत प्रवीण, नवनीत कुमार, पुरुषोत्तम कुमार, दीपक कुमार, इन्द्रजीत कुमार आदि मौजूद थे।


Spread the news