मधेपुरा : समाज को हिन्दू मुस्लिम में बांटने वाले लोगों से रहें सावधान-पूर्व मंत्री

728x90
Spread the news

हिन्दू मुस्लिम की बात करने वाले कभी भारतीय नहीं हो सकते-बलरामपुरी

धरना को समर्थन देने पहुंचे देश के नामचीन शायर अकमल बलरामपुरी
अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : NRC,CAA, NPR  के विरोध में जिला मुख्यालय के मस्जिद चौक पर लगातार दस दिनों से चल रहे अनिश्चित कालीन धरना को व्यापक स्तर पर समर्थन प्राप्त होने लगा है। अनशन के दशवें दिन देश के नामचीन शायर अकमल बलरामपुरी, सूबे के पूर्व आपदा मंत्री सह सदर विधायक प्रो चन्द्रशेखर, ए आई एस एफ बेगूसराय के चर्चित छात्र नेता शंभू देवा, लख्मनिया के प्रखर समाजसेवी मो जहांगीर आदि ने धरना स्थल पर पहुंच कर अपने समर्थन का ऐलान किया।

मौके पर अपने संबोधन में सूबे के पूर्व मंत्री प्रो चन्द्रशेखर ने कहा कि केंद्र सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है जिसे बर्दास्त नहीं किया जा सकता। आजादी के सात दशक बाद देश वासियों से भारतीय होने का प्रमाण मांगना दर्शाता है कि सरकार के पास विकास के एजेंडे बिल्कुल भी नहीं हैं। समाज में कुछ लोग लगातार समाज को बांटने की कोशिश कर रहे हैं जो हर बात में हिन्दू मुस्लिम एकता को बदनाम करने पर तुले रहते हैं ऐसे लोगों से बचने के साथ साथ उनके इरादे को कामयाब होने से रोकना भी है । उन्होने कहा कि इस संघर्ष में वो हमेशा साथ खड़े हैं।

इस अवसर पर धरना को समर्थन देने पहुंचे देश के नामचीन शायर अकमल बलरामपुरी ने कहा कि भारत अनेकता में एकता का पर्याय देता  रहा है । ऐसे देश में धर्म की राजनीति को हवा देना दुखद है। उन्होंने सरकार को आगाह करते हुए कहा कि सरकार अपने नापाक इरादों पर लगाम लगाए क्योंकि अब घर की मां – बहने बड़ी संख्या में घर से बाहर निकल पड़ी हैं। ए आई वाई एफ के राज्य उपाध्यक्ष शंभू क्रांति ने अपने संबोधन में कहा कि यह आंदोलन सरकार के लिए चेतावनी है कि अपने गलत इरादों वाले फैसले को अविलंब वापस ले।

कार्यक्रम को चर्चित छात्र नेता शंभू देवा, प्रखर समाजसेवी मो जहांगीर, मोहतिज्म अहमद ने भी संबोधित किया ।

मौके पर आयोजन समिति के सभी सदस्यों के अलावा बड़ी संख्या में भागीदारी रही।


Spread the news