नालंदा : जल जीवन हरियाली, नशा मुक्ति तथा बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में बना मानव श्रृंखला

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले में जल जीवन हरियाली, नशा मुक्ति तथा बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाया गया। मानव श्रृंखला में भागले रहे स्कूल के छात्र-छात्राएं, नौजवान, बुद्धिजीवी और सभी वर्गों के बीच काफी उत्साह देखा गया।

मौसम में ठंड और धूप नहीं निकलने के बावजूद भी मानव श्रृंखला में शामिल होने वाले लोगों के बीच उत्साह में कमी नहीं आई और ठंड को भी मात दे दी। हालांकि इस बार के मानव शृंखला में आम अवाम की वैसी भीड़ नहीं देखी गई जो शराब बंदी को लेकर बनी मानव शृंखला में देखने को मिली थी ।

 जिला मुख्यालय के हॉस्पिटल मोड पर जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह जिला आरक्षी अधीक्षक निलेश, उप समाहर्ता मो० नौशाद आलम, डीडीसी राकेश कुमार, टाउन कमिश्नर सौरभ जोरवाल, सदर अनुमंडल अधिकारी जनार्दन प्रसाद अग्रवाल के अलावा सभी वरीय पदाधिकारी मानव श्रृंखला में शामिल हुए।

दुसरी तरफ देवीसराय चौक राष्ट्रीय राजमार्ग 20 पर संसद कौशलेंद्र कुमार, एमएलसी रीना यादव, पूर्व विधायक इंजीनियर सुनील, पूर्व एमएलसी राजू यादव, मो०अकबर अली के अलावे कई वरीय नेता मानव श्रृंखला में शामिल थे। मानव श्रंखला में सबसे ज्यादा उत्साहित स्कूल छात्र और छात्राओं को देखने को मिला। वहीं साथ ही मानव श्रृंखला में भी मोदी हुकूमत का काला कानून का विरोध नजर आया। नो एनआरसी, नो सीएए, एनआरपी लिखे टीशर्ट पहनकर काफी संख्या लोग श्रृंखला में शामिल हुए। कई जगहों पर महिलाओं ने भी काले कानून का बैनर लेकर मानव श्रृंखला बनाया। इस काले कानून के खिलाफ मानव श्रृंखला में भी लोगों को देखा गया।


Spread the news