दरभंगा : सीसीए, एनआरसी और एनपीआर कानून के विरुद्ध विशाल जनसभा में उमड़ा जनसैलाब

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : आज सीसीए, एनआरसी और एनपीआर कानून के विरुद्ध एक विशाल जनसभा का आयोजन लहेरियासराय के पोलो मैदान के धरनास्थल पर किया गया। लाखो की संख्या में पहुँचे लोगो ने बड़े उत्साह से कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

इस जनसभा को संबोधित करते हुए भाकपा माले पोलित ब्यूरो सदस्य कविता कृष्णन ने कहा कि देश में एनआरसी, सीएए और एनपीआर को लाकर केन्द्र सरकार देश के वाजिब मुद्दों को दबाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को देश की जनता चुनती है लेकिन एनआरसी, सीएए और एनपीआर के तहत सरकार देश की जनता को चुनेगी, जिसे बर्दास्त नहीं किया जायेगा। यह निर्णय संविधान की हत्या की है और लोकतंत्र की भी हत्या हुई है। उन्होंने कहा कि देश के अंदर यह कानून सिर्फ अल्पसंख्यकों को ही नहीं, बल्कि दलित और गरीब गुरबों को भी एनआरसी के दायरे में ला सकता है और इसी का परिणाम है कि सिर्फ मुस्लिम समुदाय ही नहीं, देश के सभी समुदाय के लोग एक साथ मिलकर संघर्ष कर रहें हैं। उन्होंने कहा कि जब तक यह कानून वापस नहीं होगा, आंदोलन जारी रहेगा।

 हिंदुस्तान के मशहूर शायर इमरान प्रतापगढ़ी ने देश की अखंडता और एकता को खंडित करने पर केंद्र सरकार को जमकर लताड़ा। उन्होंने शायराना अंदाज़ में लोगो से अपील किया कि देश नाज़ुक हालात से गुज़र रहा है जहाँ हम सभी को समझदारी का परिचय देना है। साथ ही साथ लोगो से कागज़ नही दिखाएंगे के नारे भी लगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता नफीसुल हक रिंकु ने किया।

विज्ञापन

सभा उर्शा अर्सी, डॉ. अजीत चौधरी, धीरेंद्र झा, मुन्ना खान, मकसुद आलम पप्पू, अविनाश ठाकुर, भोला पासवान आदि दर्जनों लोगों ने संबोधित किया। जनसभा में समस्तीपुर के विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन भी मौजूद थे। संचालन रुस्तम कुरैशी ने किया।


Spread the news