मधेपुरा : छात्र युवाओं के ईमानदार आदर्श के रूप में स्थापित हैं विवेकानंद – राठौर

728x90
Spread the news

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : युवाओं के आदर्श विवेकानंद की जयंती शिव राजेश्वरी युवा सृजन क्लब कोसी प्रमंडल द्वारा क्लब के प्रधान कार्यालय में मनाया गया। इस अवसर पर विवेकानंद के जीवन सफर को याद करते हुए उन्हें नमन किया गया। जयंती के अवसर पर सफाई अभियान भी चलाया गया। वहीं इस अवसर पर निर्धन छात्र छात्राओं के बीच पठन पाठन की सामग्री का वितरण कर बच्चों को पढ़ने हेतु प्रेरित भी किया गया।

कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए क्लब के प्रमंडल महासचिव हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि विवेकानंद विपुल प्रतिभा के धनी थे। 1863 में कलकत्ता में जन्मा बच्चा नरेंद्र अपनी प्रतिभा के दम पर विवेकानंद के नाम से विश्वविख्यात ही नहीं हुआ बल्कि शिकागो में अपने अद्भुत भाषण से भारत का लोहा मनवाया। भारतीय दर्शन को नया आयाम देने के लिए भी विवेकानंद को याद किया जाता है। उनके द्वारा उदृत विचार “उठो जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाए” विश्व पटल पर युवाओं को लक्ष्य तक पहुंचने को प्रेरित करता है। राठौर ने अपने संबोधन में कहा कि विवेकानंद भारत को विश्व शक्ति के रूप में देखना चाहते थे, और खासकर युवाओं की बुलंद भागीदारी के साथ।

विज्ञापन

इस मौके पर विवेकानंद के जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी छात्रों से साझा किया। विवेकानंद जयंती के अवसर पर सफाई अभियान भी चलाया गया जिसमें कार्यालय परिसर में छात्र युवाओं द्वारा सफाई की गई। इस अवसर पर निर्धन छात्र छात्राओं के बीच पठन पाठन की सामग्री क्लब की ओर से वितरित किया गया। वितरण के बाद राठौर ने कहा क्लब का संकल्प है कि समाज के निचले से निचले पायदान को शिक्षा का लाभ मिले।

मौके पर छात्र ललटू, मंटू, घनश्याम, पिंकी, गौतम, संजय, प्रीति, सत्यम, रौशन, मौशम, प्रीति, प्रियंका,  लव, संजय आदि मौजूद रहे।


Spread the news